Breaking News

गुड़गांव गोलीबारी / जज की पत्नी की मौत, पुलिस का अनुमान- छुट्टी न मिलने से तनाव में था गनर

  • घटना शनिवार को गुड़गांव के सेक्टर 49 स्थित आर्केडिया मार्केट में हुई
  • वारदात के बाद आरोपी ने सदर थाने के एसएचओ पर भी दागीं गोलियां
  • छुट्टी मांगने पर जज और उनकी पत्नी ने गनर महिपाल को लगाई थी फटकार

गुड़गांव. सुरक्षाकर्मी की फायरिंग में जख्मी अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश कृष्णकांत शर्मा की पत्नी रेणु की रविवार सुबह इलाज के दौरान मौत हो गई। बेटे ध्रुव की हालत गंभीर बनी हुई है। दो साल से जज की सुरक्षा में तैनात महिपाल यादव (32) ने शनिवार को सेक्टर 49 में दोनों को गोली मारी थी। पुलिस का अनुमान है कि वह लंबे समय से छुट्टी नहीं मिलने से अवसाद में था। वहीं, गनर का कहना है कि उसने आठ महीने पहले ईसाई धर्म अपना लिया था। इसे लेकर जज की पत्नी उस पर तंज कसती थी।

 

वारदात के बाद उसने जज को तीन कॉल किए। इस दौरान कहा, ‘‘मैंने तुम्हारी पत्नी-बेटे को गोली मारी है। मेरी मां और लोगों को इसके बारे में बता देना।’’घटना शनिवार को आर्केडिया मार्केट में हुई। तब वहां काफी लोग मौजूद थे, लेकिन कोई उन्हें बचाने नहीं आया। रेणु और ध्रुव खरीदारी के लिए मार्केट आए थे। उनके कार से उतरते ही महिपाल ने गोलियां चलाईं। रेणु के सीने और ध्रुव के सिर में गोली लगी।

 

जख्मी बेटे को साथ ले जाना चाहता था : घटना का एक वीडियो भी सामने आया। इसमें महिपाल झल्लाते हुए जज के बेटे को कार में डालने की कोशिश करता नजर आया। नाकाम रहा तो मांग-बेटे को वहीं छोड़कर फरार हो गया था। उसने वीडियो बना रहे लोगों से कहा- यह शैतान और शैतान की मां है।

घेराबंदी करके पकड़ा गया : पुलिस के मुताबिक, घटना के बाद सदर थाने के एसएचओ ने महिपाल को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन वह गोलियां चलाकर भाग निकला। हालांकि, कुछ देर बाद घेराबंदी कर उसे फरीदाबाद से गिरफ्तार कर लिया गया। डीसीपी (पूर्व) सुलोचना गुर्जर ने बताया कि हेड कॉन्स्टेबल महिपाल तनाव में था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close