राजनीति

Exit Poll के नतीजों से आदित्य ठाकरे का मुख्यमंत्री बनने का सपना चकनाचूर

मुंबई
महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव की शुरुआत के साथ ही शिवसेना अपने युवा नेता और उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे को मुख्यमंत्री के तौर पर पेश करने की कोशिश करती हुई नजर आई. भले ही शिवसेना ने खुलकर कुछ नहीं बोला, लेकिन अंदरखाने ये बात चलती रही कि अगर पार्टी मजबूत स्थिति में होती है तो वह आदित्य ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाने का दावा पेश करेगी, लेकिन India Today-Axis My India के एग्जिट पोल के सर्वे अगर नतीजों में तब्दील होते हैं तो शिवसेना के सीएम पद के अरमानों पर पानी फिर सकता है.

इसकी बड़ी वजह आदित्य ठाकरे की सक्रियता रही है. वह शिवसेना की युवा इकाई के प्रमुख हैं. हाल ही में उन्होंने महाराष्ट्र में पांच हजार किलोमीटर से अधिक की यात्रा कर लोगों से सीधे संपर्क साधा. इससे न सिर्फ आदित्‍य ठाकरे की सियासी समझ बढ़ी बल्कि विभिन्‍न वजहों से चर्चा में भी रहे.

यही वजह है कि शिवसेना के सांसद संजय राउत ने एक रैली में कह भी दिया कि उनकी पार्टी उपमुख्यमंत्री का पद नहीं चाहेगी. इशारा साफ था कि शिवसेना सीटों के मामले में मजबूत बनकर उभरती है तो वह मुख्यमंत्री के पद पर समझौता नहीं करेगी.

सोमवार को आए महाराष्ट्र के India Today-Axis My India के एग्जिट पोल के अनुमानों से शिवसेना की ये उम्मीदें टूटती हुई नजर आ रही हैं. एग्जिट पोल के अनुसार महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना गठबंधन सरकार की वापसी के आसार नजर आ रहे हैं. बीजेपी-शिवसेना को 166-194 सीटें मिलने का अनुमान है. उसमें शिवसेना को 50-70 सीट मिलने की संभावना है, जबकि 109-124 सीटों के साथ बीजेपी महाराष्ट्र में बड़ी पार्टी बनकर उभर रही है. बीजेपी के बड़ी पार्टी बनकर उभरने के बाद शिवसेना इस स्थिति में नहीं रहेगी कि वह मुख्यमंत्री पद को लेकर दावा कर सके.

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close