मध्य प्रदेश

RPF ने दिवाली को लेकर बनाया एक्‍शन प्‍लान, इन 3 बातों पर है खास नजर

जबलपुर
आरपीएफ (RPF) का दल रेलवे के पार्सल विभाग (Parcel Department) में हर आने जाने वाले बड़े सामान पर नजर बनाए हुए हैं. इसकी वजह है कि विगत वर्षों में दीपावली (Deepawali) के त्‍योहार पर नकली मावे (Fake Mawa) की बड़ी खेप रेल द्वारा ही शहर में सप्लाई की जा रही थी, जिसे रेल विभाग ने पकड़ा था. इस बार भी नकली मावे की खेप शहर में सप्लाई होने का इनपुट आरपीएफ को मिला है.

दीपावली त्‍योहार के मद्देनजर स्वादिष्ट व्यंजनों पर नकली मावे की मिलावट रंग में भंग ना घोले इसके लिए तमाम विभाग कमर कसे हुए हैं. उत्तर प्रदेश से जबलपुर आने वाले मावे को लेकर रेल महकमा खासा चौकस दिख रहा है. आरपीएफ का दल रेलवे के पार्सल विभाग में हर आने जाने वाले बड़े सामान पर नजर बनाए हुए हैं.

गौरतलब है कि विगत वर्षों में नकली मावे की बड़ी खेप रेल द्वारा ही शहर में सप्लाई की जा रही थी, जिसे रेल विभाग ने पकड़ा था. इस बार भी नकली मावे की खेप शहर में सप्लाई होने के इनपुट के आधार पर आरपीएफ का दल विशेष तौर पर नजर बनाए हुए हैं. सामान की चैकिंग के साथ-साथ पार्सल भेजने वाले और उसे लेने वाले का वेरिफिकेशन भी कड़ाई के साथ हो रहा है.

आरपीएफ थाना प्रभारी वीरेन्द्र सिंह के मुताबिक ना केवल नकली मावे बल्कि विस्फोटक सामग्रियों पर भी विभाग की नजर बनी हुई है. हर बार बड़ी संख्या में पटाखे रेलवे के पार्सल विभाग द्वारा ही अनाधिकृत तौर पर भेजे जाते रहे हैं. इस बार भी सुरक्षा में कोई चूक ना हो इसके मद्देनजर ऐसे पार्सलों पर भी नजर रखी जा रही है, जिसमें विस्फोटक सामग्री होने की आशंका हो. आरपीएफ का दल नगर निगम के खाद्य अमले और अन्य विभागों के साथ मिलकर चरणबद्ध तरीके से चेकिंग चला रहा है. जबकि रेलवे और प्लेटफार्म की सुरक्षा को लेकर भी डॉग स्क्वॉड की मदद से निगरानी रखी जा रही है.

Related Articles

Back to top button
Close
Close