उत्तर प्रदेश

अयोध्या में बना वर्ल्ड रेकॉर्ड, जले 5.51 लाख दीये

अयोध्या
अयोध्या में दीपोत्सव के तहत आज एक नया वर्ल्ड रेकॉर्ड बन गया है। अयोध्या में 5 लाख 51 हजार दीप जलाए गए, जिनमें से राम की पैड़ी पर ही अकेले 4 लाख 10 हजार दीये जलाए गए। पिछली बार 3 लाख 21 हजार दिये जलाए गए थे। गिनेस बुक ऑफ वर्ल्ड रेकॉर्ड्स की टीम ने अयोध्या पर रेकॉर्ड दियों के जलाए जाने घोषणा की। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस वर्ल्ड रेकॉर्ड के लिए अयोध्या के सभी लोगों और संत समाज को बधाई दी।

इससे पहले सरयू घाट पर आरती में सीएम योगी आदित्यनाथ शामिल हुए। उन्होंने नया घाट पर आरती भी की। इसके बाद सरयू घाट पर लेजर शो के जरिए राम के जीवन को दर्शाया गया। राम की पैड़ी पर लेजर शो का आयोजन किया गया। राम की पैड़ी के अलावा 1 लाख 51 हजार दीप रामनगरी के 11 अन्य चुनिंदा स्थलों पर प्रज्जवलित किए गए।

दीपोत्सव कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे सीएम योगी ने सबसे पहले राम, सीता और लक्ष्मण के हेलिकॉप्टर से अयोध्या आगमन पर तिलक लगाकर उनका स्वागत किया। सीएम योगी खुद आरती के साथ सीता-राम की अगवानी की। इसके बाद उन्होंने अपने संबोधन में प्रदेश और केंद्र की मोदी सरकार की तारीफ की।

विपक्ष पर सीएम ने बोला हमला
विपक्ष पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि पिछले सरकारें अयोध्या के नाम से पहले की सरकारें अयोध्या के नाम से डरती थीं, लेकिन अपने कार्यकाल के दौरान मैं डेढ़ दर्जन बार यहां आ चुका हूं। इस मौके पर सीएम योगी ने 226 करोड़ की परियोजनाओं का भी लोकार्पण किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि हमारी सात पवित्र नगरियों में तीन पवित्र नगरी अयोध्या, काशी और मथुरा हमारे उत्तर प्रदेश में हैं। देश और दुनिया में इतना समृद्ध एवं सांस्कृतिक परिवेश किसी के पास नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राम की परंपरा पर हम सबको गौरव की अनुभूति होती है। अयोध्या का नाम आते ही रामराज्य हमारे मन मस्तिष्क में खुद-ब-खुद आ जाता है। रामराज्य शासन की एक ऐसी व्यवस्था है, जिसमें जाति, मत, मजहब, संप्रदाय, क्षेत्र और भाषा के आधार भेदभाव नहीं होता।

पांच दिन तक चलेगा कार्यक्रम
सीएम के अलावा इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में फिजी गणराज्य की उपसभापति वीना भटनागर, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद सिंह पटले भी इस कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे हैं। यह कार्यक्रम पांच दिन तक चलेगा।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close