उत्तर प्रदेश

 विधायक कुलदीप सेंगर को 72 घंटे की पेरोल

 उन्नाव 
बहुचर्चित उन्नाव रेप कांड के आरोपित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई की मौत के बाद अंतिम संस्कार के लिए जेल में बंद सेंगर की 72 घंटे की पेरोल मंजूर कर ली गई है। लखनऊ निवासी वकील सत्येन्द्र सिंह ने पेरोल के लिए रविवार को तीस हजारी कोर्ट में आवेदन किया।

छुट्टी होने से स्पेशल कोर्ट के न्यायाधीश ने अंतिम संस्कार के लिए आरोपित विधायक व उनके छोटे भाई की पेरोल मंजूर कर ली। कुलदीप के भाई मनोज सिंह सेंगर की दिल का दौरा पड़ने से दिल्ली में मौत हो गई।
शव लेकर परिजन उन्नाव रवाना

विधायक सेंगर के भाई भी रेप कांड में आरोपित थे। कभी-कभी वह दिल्ली के साईंधाम आश्रम जाया करते थे। कुछ दिन पहले आश्रम गए थे। शनिवार देर रात उन्हें हार्टअटैक पड़ा।

दो बजे रात में तबीयत बिगड़ने पर मनोज को अस्पताल ले जाया गया था, वहां डॉक्टरों ने दिल का दौरा पड़ने से उन्हें मृत घोषित कर दिया। मनोज दिल्ली में रहकर कुलदीप व छोटे भाई अतुल सिंह के मुकदमों की पैरवी कर रहे थे। परिजनों के मुताबिक दिल्ली से उनका शव उन्नाव लाया जा रहा है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close