विश्व

कायला मुलर पर रखा था बगदादी को ढेर करने के ऑपरेशन का नाम

वॉशिंगटन
सीरिया के इदलिब में इस्लामिक स्टेट के सरगना अबू बकर-अल बगदादी को अमेरिकी सैनिकों ने उसके गुप्त ठिकाने में ही ढेर कर दिया। खास बात यह है कि अमेरिकी सेना ने इस ऑपरेशन का नाम अपने ही देश की नागरिक रही और बगदादी की हवस का शिकार हुई युवती कायला मुलर के नाम पर रखा था। कहा जाता है कि बगदादी ने कायला मुलर से रेप किया था और उसके बाद आतंकियों ने 2015 में उसकी हत्या कर दी थी।

मानवाधिकार कार्यकर्ता कायला मुलर ग्रैजुएशन पूरी करने के बाद 2012 में तुर्की गई थीं और फिर सीमा पार कर सीरिया चली गई थीं। गृह युद्ध का शिकार हुए लोगों को सहायता पहुंचाने के लिए वह सीरिया गई थीं। वह डॉक्टर्स विदआउट बॉर्डर्स की सहायता से चलने वाले एक चैरिटी अस्पताल से निकलकर जा रही थीं, तभी अगस्त, 2013 में उन्हें आतंकियों ने अलेप्पो से अगवा कर लिया था।

आईएस की कैद में रहने के दौरान मुलर ने अपने परिजनों को एक खत भी लिखा था, जिसमें उन्होंने कहा था कि मैं नहीं चाहती कि मुझे यहां से छुड़ाने के लिए आप लोग कोई समझौता करें। उन्होंने लिखा था, 'मैं जानती हूं कि आप लोग चाहेंगे कि मैं मजबूती से रहूं। मैं एकदम वही कर रही हूं।'

इस्लामिक स्टेट ने दावा किया था कि जॉर्डन के एक हवाई हमले में कायला की मौत हो गई थी। हालांकि जॉर्डन ने इससे इनकार किया था। कायला मुलर के परिजनों ने 2015 में एक बयान जारी कर कहा था, 'हमें बेहद दुख के साथ यह साझा करना पड़ रहा है कि कायला मुलर अब नहीं रहीं।' गौरतलब है कि रविवार को राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने ऐलान किया था कि बगदादी को उसके ही गुप्त ठिकाने पर 'कुत्ते की मौत' मारा गया है।

इस बीच खबर है कि बगदादी के अलावा इस्लामिक स्टेट का एक और खूंखार आतंकी अबू हसन अल-मुहाजिर भी मारा गया है। कहा जाता है कि वह भविष्य में बगदादी का उत्तराधिकारी हो सकता था। वह एक तेल टैंकर में सवार होकर उत्तरी सीरिया जा रहा था, इसी दौरान एक हवाई हमले में वह मारा गया।

इस पूरे ऑपरेशन की तस्वीरें और विडियो भी जल्दी ही देखने को मिल सकते हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्र्ंप ने यह कहा है। सोमवार को उन्होंने कहा कि शनिवार को बगदादी को ढेर करने के ऑपरेशन की विडियो और तस्वीरें जल्दी ही साझा की जा सकती हैं। इसमें एयर फुटेज, जवानों की लैंडिंग और बगदादी की गुफा में घुसने का विडियो और तस्वीरें हो सकती हैं।

Related Articles

Back to top button
Close
Close