छत्तीसगढ़

किसानों के पंजीयन का कार्य शीघ्र पूर्ण करें- कलेक्टर

जांजगीर-चांपा 
कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक ने सभी तहसीलदारों से कहा है कि वे खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 हेतु धान खरीदी के लिए किसान पंजीयन के लिए प्राप्त सभी आवेदनों को अंतिम दिवस 31 अक्टूबर 2019 से पहले अनिवार्य रूप से पूर्ण कराएं। अंतिम तिथि के बाद किसी भी स्थिति में शासन द्वारा लॉक ओपन और समय में वृद्धि नहीं की जाएगी, पंजीयन हेतु आवेदन लंबित रहने पर संबधित अधिकारी की जिम्मेदारी तय की जाएगी। बैठक में तहसीलदारों से कहा गया कि पटवारी सूची को तत्काल समितियों को वापस कराएँ और रकबा संबंधी कोई समस्या हो तो आज ही जिला खाद्य अधिकारी को सूचित करें। आज के बाद रकबे में वृद्धि नही की जाएगी।

कलेक्टर कार्यालय सभाकक्ष में आज जिला स्तरीय विभागीय अधिकारियों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कलेक्टर ने जनपदों के सी.ई.ओ. को धान खरीदी के लिए नोडल अधिकारी के दायित्व से मुक्त करने के निर्देश खाद्य अधिकारी को दिये। उन्होंने 31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस पर आयोजित ‘‘रन फार यूनिटी‘‘ (एकता दौड़) में सभी विभागीय अधिकारियों-कर्मचारियों को शामिल होने कहा। यह एकता दौड़ 31 अक्टूबर को सुबह 7.30 बजे कलेक्टर कार्यालय प्रांगण से शुरू होगी और टी.सी.एल. कालेज के सामने पटेल उद्यान पर समाप्त होगी। उन्होंने 31 अक्टूबर को पूर्वान्ह 11 बजे कार्यालय के सभी अधिकारियों, कर्मचारियांे को राष्ट्रीय एकता, अखण्डता की शपथ लेने कहा। 

कलेक्टर ने इसी दिन दोपहर 12 बजे पटेल उद्यान में आयोजित मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कार्यक्रम में अनिवार्य रूप से शामिल होने के निर्देश सभी अधिकारियों को दिये। उन्होंने राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण (एन.जी.ओ.) के निर्देश के परिपालन में एक  एन.जी.ओ. का चयन करने के निर्देश दिये। उन्होंने निजी अस्पतालों का पंजीयन करने तथा मेडिकल वेस्ट मटेरियल का डिस्पोजल सुनिश्चित कराने कहा। इसी प्रकार ग्रामीण और नगरीय निकायों को निर्देशानुसार आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये गये। कलेक्टर ने बैठक में माननीय उच्च न्यायालय के लंबित विभागीय प्रकरणों में शीघ्र जवाब, दावा तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये। 

अपर कलेक्टर लीना कोसम ने मुख्यमंत्री के 31 अक्टूबर को जांजगीर में आयोजित कार्यक्रम के लिए समुचित प्रशासनिक तैयारी के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये। बैठक में अपर कलेक्टर श्रीमती लीना कोसम नेे मुख्यमंत्री जनचौपाल, कलेक्टर जनचौपाल, सामान्य प्रशासन विभाग, मुख्यमंत्री सचिवालय, सी.एम. हाऊस और टी.एल. में प्राप्त पत्रों के निराकरण की कार्यवाही की क्रमबद्ध  समीक्षा की गई और निराकरण के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दियेे। समीक्षा बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी तीर्थराज अग्रवाल, प्रशासनिक और विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
Close
Close