खेल

फर्स्ट क्लास क्रिकटरों के लिए करार व्यवस्था

कोलकाता    
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) अध्यक्ष सौरव गांगुली ने सोमवार को संकेत दिया कि जल्दी ही भारत में प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों के लिए करार व्यवस्था लागू की जाएगी, जिससे उन्हें वित्तीय सुरक्षा दी जा सके। गांगुली ने बतौर बीसीसीआई अध्यक्ष इंटरव्यू में कहा कि घरेलू क्रिकेटरों की वित्तीय स्थिति उनकी प्राथमिकता है और वह मैच फीस में बढ़ोतरी चाहते हैं।

सौरव गांगुली ने कहा कि देश के शीर्ष अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों की तरह घरेलू क्रिकेटरों के लिए भी भुगतान का सुव्यवस्थित ढांचा होना चाहिए। गांगुली ने कहा, ''हम प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों के लिए करार व्यवस्था लेकर आएंगे। हम नई वित्त (उप) समिति को करार व्यवस्था तैयार करने के लिए कहेंगे।''

उन्होंने कहा, ''अभी चार-पांच दिन ही हुए हैं और बीच में दिवाली की छुट्टी थी। मैं दो सप्ताह में सब कुछ आकलन करुंगा और आगे के बारे में फैसला लूंगा। काफी काम चल रहा है।''

फिलहाल एक घरेलू क्रिकेटर को सालाना 25 से 30 लाख रुपए मिलते हैं। हर प्रथम श्रेणी मैच के लिए 35000 प्रतिदिन मिलते हैं। बीसीसीआई को प्रसारण अधिकारों से मिलने वाले सकल राजस्व का 13 प्रतिशत घरेलू क्रिकेटरों में बांटा जाता हे।

बता दें कि बीसीसीआई अध्यक्ष पद का नामांकन भरने के बाद भी गांगुली ने कहा था कि पिछले तीन साल के बीसीसीआई में जो खराब हालात थे, उन्हें सुधारना और फर्स्ट क्लास क्रिकेटरों की स्थिति को बेहतर करना उनकी प्राथमिकता होगी। उन्होंने कहा था, ''मेरे लिए हालांकि प्राथमिकता प्रथम श्रेणी क्रिकेट खिलाड़ि़यों को बेहतर सुविधाएं मुहैया करना होगी। साथ ही कोशिश होगी कि सभी चीजें अपनी जगह पर रहें।”

 

Related Articles

Back to top button
Close
Close