देश

व्यस्त सिग्नलों पर महिलाओं के लिए बनाए जाएंगे टॉइलेट्स

मुंबई
मुंबई के व्यस्त ट्रैफिक सिग्नलों पर महिलाओं की सुविधा के लिए विशेष टॉइलेट रखे जाएंगे। यह इंतजाम मुंबई के 20 व्यस्त सिग्नलों पर होगा। ट्रायल के तौर पर इस तरह का टॉइलेट रखा जा चुका है। उम्मीद की जा रही है कि अगले तीन-चार महीनों में यह सुविधा शुरू हो जाएगी।

मुंबई की सड़कों पर सफर के दौरान महिलाओं को अक्सर टॉइलेट की कमी से रू-ब-रू होना पड़ता है। इसी के लिए सभी सुविधाओं से युक्त एक बस खड़ी की जाएगी। इसमें महिलाओं के लिए टॉइलेट के अलावा चेंजिंग रूम, पीने का पानी, मोबाइल चार्जिंग पॉइंट और शिशु को स्तनपान की व्यवस्था भी होगी। बीएमसी के एक वरिष्‍ठ अधिकारी का कहना है कि महिलाओं की सुविधा के लिए मुंबई के सबसे व्यस्त ट्रैफिक सिग्नलों पर टॉइलेट की व्यवस्था की जाएगी। टॉइलेट के साथ अन्य सुविधाएं भी उन्हें मुहैया कराई जाएंगी।

टॉइलेट्स की काफी कमी
मुंबई में स्वच्छ भारत अभियान के तहत बड़ी संख्या में टॉइलेट्स की जरूरत है। मुंबई की जनसंख्या को देखते हुए यहां काफी कम टॉइलेट्स हैं। इनकी कमी भीड़-भाड़ वाले इलाकों में ज्यादा महसूस होती है। बीएमसी द्वारा पे ऐंड यूज की पॉलिसी रद्द किए जाने के बाद से कमर्शल इलाकों में टॉइलेट नहीं बन रहे हैं। भीड़-भाड़ वाले इलाकों में जगह की कमी के चलते बीएमसी टॉइलेट उपलब्ध कराने के लिए नए-नए विकल्प अपना रही है। इसी के साथ पुरानी बसों को भी टॉइलेट में बदलने की तैयारी की जा रही है।

रैंकिंग पर फोकस
स्वच्छ भारत रैंकिंग में पिछड़ने वाली बीएमसी इस बार ऊपरी स्थान हासिल करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। नए टॉइलेट्स के साथ-साथ कचरा वर्गीकरण पर भी फोकस इसी का हिस्सा है। इसके अलावा, बड़े पैमाने पर ब्रैंडिंग करके भी मुंबई की छवि को चमकाया जाएगा।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close