बिहार

जानवरों से फसल बचाने को खेत में लगा रखी थी बिजली की तार, करंट लगने से 3 की मौत

मुजफ्फरपुर
बिहार (Bihar) के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में छठ (Chhath) पर्व की खुशियां मातम में बदल गईं. बुधवार देर शाम मोतीपुर थाना क्षेत्र के महवल गांव में तीन लोगों की करंट लगने से मौत हो गई. बताया जा रहा है कि गांव के एक किसान (Farmer) ने अपने खेत में बिजली की नंगी तार लगाई थी जिसकी चपेट में आकर तीनों की मौत (Death) हो गई. सूचना मिलने पर मोतीपुर थाना पुलिस (Motipur Police) मौके पर पहुंची और मामले की छानबीन की.

बताया जा रहा है कि तीनों मृतक हरदेव राय, चुमन राय और सुनील साहनी ने शराब पी रखी थी. इस बीच किसी ने तीनों को पुलिस के आने की बात कही तो गिरफ्तारी की आशंका से घबराए तीनों ने खेत की ओर दौड़ लगा दी. उन्हें पता नहीं था कि किसान हीरालाल महतो के खेत में चारों तरफ बिजली की तार लगाई गई है. अंधेरा होने की वजह से तीनों बिजली की तार को देख नहीं सके और उसकी चपेट आ गए.

ग्रामीणों ने बताया कि हीरालाल महतो ने जानवरों से अपनी फसल को बचाने के लिए बिजली के दो फेज तार अपनी खेत के चारों ओर लगा रखी थी. हर दिन शाम में दोनों तारों में करंट चालू कर दिया जाता था. इस बात की जानकारी तीनों मृतकों को नहीं थी जिसकी वजह से उनकी दर्दनाक मौत हो गई. घटना के बाद आरोपी किसान अपने परिवार के साथ घर छोड़कर फरार है.

थानाध्यक्ष अनिल शर्मा ने बताया कि तीनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए एसकेएमसीएच (SKMCH) भेजा गया है. मौके पर पहुंचे मोतीपुर थाना के दारोगा जवाहर सिंह ने कहा कि मृतकों के परिजनों का बयान लिया गया है. उनके बयानों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी. पीड़ित परिजन आरोपी किसान हीरालाल महतो पर कार्रवाई के साथ मुआवजे की मांग कर रहे हैं.

Related Articles

Back to top button
Close
Close