उत्तर प्रदेश

योगगुरु बाबा रामदेव ने कहा-  अब पीओके भी भारत में शामिल हो 

 
मथुरा

योगगुरु बाबा रामदेव ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से संविधान के अनुच्छेद 35ए एवं 370 के अधिकतर प्रावधान हटाने और उसे 2 केंद्र शासित प्रदेश बनाने का ऐतिहासिक फैसला केंद्र सरकार का साहसिक कदम है। उन्होंने कहा कि अब सरकार को यह सोचना चाहिए कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) का भारत में विलय कैसे हो। उन्होंने कहा कि देश की आर्थिक, सामाजिक एवं शैक्षणिक क्षेत्रों में प्रगति हो ताकि भारत की अर्थव्यवस्था अमेरिका, चीन और जापान जैसे देशों से बेहतर हो सके।

रामदेव ने दावा किया कि अयोध्या में राम मंदिर बनकर रहेगा और इस मामले में बस सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार है। योगगुरु बुधवार की शाम वृन्दावन के वात्सल्य ग्राम पहुंचे। उन्होंने यहां साध्वी ऋतम्भरा से मुलाकात की। इसके पूर्व रमणरेती स्थित कार्षिणी उदासीन आश्रम में आयोजित विभिन्न समुदायों के संत, महात्मा और सिख गुरुओं के समागम में हिस्सा लिया।
 
समागम को संबोधित करते हुए रामदेव ने कहा, ‘वेदवाणी और गुरुवाणी में कोई भेद नहीं है। हम आज भी जात-पात के पथ पर भेदभाव करते हैं, लेकिन गुरु के दरबार में ऐसा नहीं है।’ उन्होंने कहा कि गुरु नानक जितने सिखों के हैं, उतने ही वैष्णवों व अन्य समुदाय के हैं। इस समागम में पंजाब से आए संत हरनाम ने कहा कि गुरुवाणी में ऋषि मुनियों की परंपरा समाहित है और यह समाज का मार्गदर्शन करता है।
 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close