उत्तर प्रदेश

कमलेश तिवारी हत्याकांड: हत्यारों को पिस्टल देने वाला आरोपी गिरफ्तार

 
कानपुर 

लखनऊ में हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या के मामले में एक और आरोपी को गिरफ्तार किया गया है. उत्तर प्रदेश पुलिस के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने गुजरात एटीएस के साथ मिलकर कानपुर से यूसुफ खान नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है.

कानपुर से किया गया गिरफ्तार
यूसुफ खान के खिलाफ आरोप है कि उसने कमलेश तिवारी के हत्यारों को पिस्टल मुहैया करवाई थी. कमलेश तिवारी के हत्यारों को पिस्टल देने वाला आरोपी यूसुफ खान मूल रूप से यूपी के फतेहपुर का रहने वाला है और वह पिछले कुछ समय से गुजरात में रह रहा था. यूसुफ को शुक्रवार शाम 6 बजे कानपुर के घंटाघर से गिरफ्तार किया गया है.

जेल में हैं हत्या के दो मुख्य आरोपी
उत्तर प्रदेश एटीएस ने अपने बयान में बताया कि 18 अक्टूबर को कमलेश तिवारी की दो लोगों ने हत्या कर दी थी. मामले के मुख्य आरोपी अशफाक और मोइनुद्दीन उर्फ फरीद पठान को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है.

एक आरोपी को बरेली से किया था गिरफ्तार
कमलेश तिवारी की हत्या के मामले में एटीएस की टीम ने हत्यारोपियों के मददगार वकील नावेद के तीसरे साथी कामरान को गुरुवार तड़के बरेली से गिरफ्तार किया था. एटीएस के मुताबिक, कामरान ने हत्यारोपियों को नेपाल पहुंचाने में मदद की थी. वह हत्यारोपियों की मदद करने वाले दिल्ली हाई कोर्ट के वकील का बेहद करीबी थी. इस मामले में हाई कोर्ट के वकील नावेद अपने दो साथियों के साथ पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके हैं.

कैसे हुई की कमलेश तिवारी की हत्या?
कमलेश तिवारी से मिलने आए दो लोगों में से एक ने भगवा कपड़े पहन रखे थे. वह मिठाई के डिब्बे में चाकू, कट्टा लेकर आए, तिवारी से मिलने के लिए उनके दफ्तर पहुंचे. हमलावरों ने मिठाई का डब्बा खोला और बंदूक चलाई लेकिन पिस्टल में गोली फंसने की वजह से वो नहीं चल पाई. जिसके बाद हमलावरों ने धारदार हथियार से कमलेश तिवारी का गला रेत दिया था.

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close