देश

दिल्ली में विधानसभा चुनाव का ऐलान 10 जनवरी तक संभव

 
नई दिल्ली

झारखंड विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद अब यह साफ हो गया है कि दिल्ली में विधानसभा के चुनाव अपने तय समय पर ही होंगे। हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों की घोषणा के वक्त अटकलें लगाई जा रही थीं कि दिल्ली में विधानसभा चुनाव झारखंड के चुनावों के साथ ही होगा। दिल्ली चुनाव आयोग के सूत्रों का कहना है कि विधानसभा चुनावों के लिए फाइनल वोटर लिस्ट 6 जनवरी को पब्लिश की जाएगी।

इसके बाद ही दिल्ली में विधानसभा चुनाव की घोषणा की जा सकती है। अनुमान है कि 10 जनवरी तक दिल्ली विधानसभा चुनाव की घोषणा हो। 15 फरवरी से पहले चुनाव प्रक्रिया हर हाल में पूरी करने की बात कही जा रही है।
 
विधानसभा की मियाद 22 फरवरी तक
दिल्ली विधानसभा की मियाद 22 फरवरी की पूरी होगी। इसके पहले दिल्ली में चुनाव प्रक्रिया हर हाल में पूरी करना जरूरी होगा। सूत्रों का कहना है कि इसलिए यह संभव है कि 15 फरवरी तक चुनाव प्रक्रिया पूरी हो जाए, क्योंकि चुने हुए प्रतिनिधियों को भी शपथ ग्रहण के लिए कुछ वक्त चाहिए। दिल्ली में चुनाव की घोषणा 10 जनवरी तक हो सकती है। इससे पहले चुनाव की घोषणा संभव नहीं है, क्योंकि दिल्ली चुनाव आयोग ने इलेक्ट्रॉलर्स वेरिफिकशन प्रोग्राम (ईवीपी) शुरु किया है उसके तहत वोटरों की अंतिम सूची अगले साल 6 जनवरी को पब्लिश की जाएगी। जब तक फाइनल वोटर लिस्ट चुनाव आयोग को नहीं मिलती, तब तक चुनाव की घोषणा नहीं की जा सकती।

किसी का भी नाम वोटर लिस्ट से नहीं कटेगा
दिल्ली विधानसभा चुनावों के मद्देनजर जो ईवीपी कार्यक्रम चला था और 31 अक्टूबर को इसकी अंतिम तारीख थी। वेरिफिकेशन के बाद करीब 1.44 लाख वोटरों की सूची तैयार की गई है, जो लोकसभा चुनावों की तुलना में एक करीब एक लाख अधिक है। दिल्ली चुनाव आयोग के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने यह साफ किया है कि जिन्होंने वेरिफिकेशन नहीं कराया है, उनके नाम लिस्ट से नहीं कटेंगे। 15 नवंबर को ड्राफ्ट वोटर लिस्ट पब्लिश किया जाएगा और इसके तुरंत बाद स्पेशल समरी रिविजन शुरू कर दिया जाएगा। 6 जनवरी को फाइनल वोटर लिस्ट पब्लिश किया जाएगा।
 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close