छत्तीसगढ़

रंगीन मिजाज शिक्षक स्कूल से पहुंच गया जेल

डौंडीनगर
समाज व बच्चों को राह दिखाने वाले शिक्षक ही जब रास्ता भटक जाए तब जेल ही उसका सही ठिकाना है। वहशी शिक्षक कई महिलाओं की अस्मत से खेल चुका था।  लेकिन कोई शिकायत सामने नहीं आई। इस बीच हिम्मत जुटाकर एक विधवा महिला ने थाने  में रिपोर्ट दर्ज कराई कि शिक्षक गणेश गायकवाड़ ने उससे शारीरिक संबंध बनाकर उसके कोख से नवजात का जन्म कराया है और अब बच्चे को अपना मानने से इंकार कर रहा है। पीड़ित की शिकायत पर आरोपित शिक्षक को पुलिस ने उसके गृह ग्राम से गिरफ्तार कर धारा 376 के तहत कोर्ट में पेश कर बालोद जेल भेज दिया है।

गत 14 अक्टूबर को डौंडी नगर के वार्ड नयापारा प्राथमिक स्कूल प्रांगण में पीड़िता,ग्रामीणों और महिला बाल विकास विभाग की संयुक्त बैठक हुई। जहां विधवा महिला ने नयापारा प्राथमिक स्कूल में पदस्थ रहे शिक्षक गणेश गायकवाड़ का स्प्ष्ट नाम लेकर उसे बच्चे का पिता बताया । लेकिन ठोस सबूत के बिना उक्त शिक्षक ने बच्चे को अपनाने से इंकार कर दिया। बैठक में यह भी चर्चा हुई कि यह शिक्षक का गाँव मे यह तीसरा मामला है। इसलिए इस आशिक मिजाज शिक्षक को स्कूल से हटाने की मांग की। शिक्षक को इस स्कूल से हटा तो दिया गया लेकिन विधवा महिला को इंसाफ नही मिला तब समाज के लोगों ने महिला का साथ दिया। महिला अपने पिता व समाज के लोगों के साथ डौंडी थाना पहुँच रिपोर्ट दर्ज कराई। जिस पर पुलिस ने धारा 376 पंजीबद्ध करते हुए विधवा महिला का डॉक्टरी परीक्षण कराकर आरोपित शिक्षक को 48 घंटे में ढूंढ निकाला और उसे गिरफ्तार कर जेल दिया गया।

 

Related Articles

Back to top button
Close
Close