छत्तीसगढ़

रमन राज में गरीब और गरीब हुआ – बघेल

रायपुर
भूपेश बघेल ने रमन सिंह के आरोप का करारा जवाब देते हुए कहा कि भाजपा के प्रधानमंत्री हैं नरेन्द्र मोदी और उनकी वजह से ही देश में मंदी आई है। जबकि १५ साल छग में राज करने वाले रमनसिंह कहते हैं कि प्रदेश में आर्थिक मंदी नहीं हैं। मोदी से बेहतर है रमन इसलिए उनको प्रधानमंत्री बना दिया जाना चाहिए। राज्य में जब रमन की सरकार आई तब गरीबी का ग्राफ ३६ फीसदी था जो पन्द्रह साल बाद ४० फीसदी पहुंच गया इस पर वे क्या कहेंगे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि बहुत दुर्भाग्यजनक बात है कि डॉ रमन सिंह की नीतियों के कारण ही छत्तीसगढ़ गरीब हुआ है। जब ये सरकार में आए तो प्रदेश के ३६ प्रतिशत लोग गरीबी रेखा के नीचे जीवन व्यापन कर रहे थे अब ४० प्रतिशत हो गया है। इनके राज में गरीब और गरीब हुआ है। केन्द्र के विरोध के लिए कार्यक्रम बना है वह ५ नवम्बर से प्रारम्भ होगा। ५ से १२ नवम्बर तक ब्लाक और जिला स्तर पर कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। १३ नवम्बर को केन्द्र सरकार पर दबाव बनाने के लिए किसानों और गरीबों के हित में रायपुर से दिल्ली के लिए कूच करेंगे। १५ नवम्बर तक पहुंचकर वहां धरना प्रदर्शन करेंगे।

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि एआईसीसी के राष्ट्रीय स्तर के कार्यक्रम के परिप्रेक्ष्य में पीएल पुनिया के मार्गदर्शन और मोहन मरकाम की अध्यक्षता में बैठक हुई है। पिछले दो साल से भारत सरकार ने राज्य सरकारों के साथ एक एमओयू हुआ था जिससे राज्य में किसानों को बोनस देना संभव हो पाया था। इसके पूर्व २०१४ के बाद से धान में बोनस मिलना बंद हो गया था लेकिन २०१७-१८ और १८-१९ में बोनस दिया गया। पिछले दो वर्षों से उसे शिथिल कर दिया गया था जिससे बोनस देना संभव हो पाया। प्रधानमंत्री और खाद्य मंत्री रामविलास पासवान को भी चिठ्ठी लिखी गई। व्यक्तिगत मुलाकात भी की गई। केन्द्र सरकार अपने से देगी नहीं राज्य सरकार अपने खजाने से देगी उन्हें तकलीफ क्यों होनी चाहिए।

Related Articles

Back to top button
Close
Close