मध्य प्रदेश

अपने वेतन से भी गरीबों की सेवा करती हैं विधायक सुनीता पटेल

नरसिंहपुर
गाडरवाड़ा की विधायक सुनीता पटेल इन दिनों जनप्रतिनिधि के रूप में आदर्श प्रस्तुत कर रही है। बतौर विधायक मिलने वाले अपने मानदेय से भी गरीबों की मदद कर रही है। सुनीता पटेल पहले से ही समाजसेवा के क्षेत्र में सक्रिय रही है। कांग्रेस के टिकट पर यहां से चुनी गई  विधायक सुनीता पटेल पहली बार विधानसभा में पहुंची है। उन्हें विधायक के तौर पर हर माह एक लाख रुपये के लगभग वेतन मिलता है। यह वेतन वे अपने उपयोग में नहीं लेती है। अपने वेतन की पूरी राशि वे गरीबों के लिए खर्च कर रही है। पिछले दस महीनों में उन्हें मानदेय से करीब 10 लाख रुपए मिले है। उन्होंने पूरा वेतन अपना गरीबों में ही खर्च किया है।

चुनाव के वक्त किया था ऐलान
सुनीता पटेल ने चुनाव लड़ने के दौरान घोषणा की थी कि यदि वे चुनाव जीती तो वे अपना पूरा वेतन गरीबों के कल्याण के लिए समर्पित करेंगी। सुनीता पटेल की इस बात पर वहां के लोगों ने इसलिए भी तब भरोसा कर लिया था कि वे विधायक बनने से पहले भी गरीबों की मदद के लिए आगे आती रही हैं।

ये किए कार्य
गरीब कन्याओं के विवाह में सहायता हेतु ढाई लाख, गांगई में गरीब महिलाओं का सम्मान पचास हजार, सार्इंखेड़ा में नलकूप खनन 55 हजार, खेल प्रतियोगिता हेतु 27 हजार, विकलांग नारायण जाटव को सहायता 25 हजार, बीटीआई स्कूल 10 हजार, अंत्येष्टि हेतु 5 हजार समेत ऐसे कई जनहित के कार्य हैं जिनमें विधायक सुनीता पटेल द्वारा अपने वेतन से सहायता दी गई।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close