देश

1500 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति जब्त, शशिकला के खिलाफ आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई

 
चेन्नई 
एआईएडीएमके की पूर्व महासचिव वीके शशिकला के खिलाफ आयकर विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है. आयकर विभाग के अधिकारियों ने शशिकला की 1500 करोड़ रुपये की संप्पति को जब्त कर लिया है. ये कार्रवाई बेनामी लेनदेन (निषेध) अधिनियम के प्रावधानों के तहत हुई है. तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत जे जयललिता की लंबे समय तक मित्र रहीं शशिकला भ्रष्टाचार मामले में चार साल जेल की सजा काट रही हैं.

आयकर विभाग ने ऑपरेशन 'क्लीन मनी' के तहत शशिकला और उनके रिश्तेदारों की संपत्तियों पर  छापे के दौरान दस्तावेजों का पता लगाया था. इन संपत्तियों को नोटबंदी के बाद खरीदा गया था. शशिकला की चेन्नई, कोयम्बटूर, पुदुचेरी और तमिलनाडु में कुछ स्थानों पर संपत्ति है, जिसे आयकर विभाग ने जब्त कर लिया है.

2017 से जेल में बंद हैं शशिकला

कथित तौर पर इन सभी संपत्तियों का व्यवरण शशिकला या उनके परिवार ने कभी अपनी संपत्ति की घोषणा करते समय नहीं किया था. शशिकला फरवरी 2017 से जेल में बंद हैं. सुप्रीम कोर्ट ने बेंगलुरु की एक विशेष अदालत द्वारा उन्हें आय से अधिक संपत्ति के मामले में दोषी ठहराया और उन्हें चार साल कैद की सजा सुनाई.

दिसंबर 2016 में जयललिता के निधन के बाद एआईएडीएमके की बागडोर संभालने वाली शशिकला को बाद में तत्कालीन मुख्यमंत्री पलानीस्वामी के नेतृत्व वाले खेमे ने पार्टी से निकाल दिया था. उनके रिश्तेदार इलावरासी और वी एन सुधाकरन भी मामले में चार साल की जेल की सजा काट रहे हैं. जयललिता की मौत में कथित संलिप्तता को लेकर भी शशिकला से पूछताछ हो चुकी है.

जयललिता-शशिकला की तीन दशकों तक रही दोस्ती

शशिकला जयललिता की सबसे करीबी थीं और जयललिता उन पर बेहद विश्वास करती थीं. करीब तीन दशकों तक दोनों के बीच गहरी दोस्ती रही. कुछ लोग शशिकला को जयललिता की परछाई कहा करते थे. 2011 में शशिकला पर जयललिता को धीमा जहर देकर मारने की कोशिश करने का गंभीर आरोप लगा.

आरोप था कि शशिकला जयललिता की हत्या के बाद अपने पति नटराजन को मुख्यमंत्री बनते देखना चाहती थीं. इसके बाद जयललिता ने शशिकला को पार्टी से निकाल दिया और उनसे पूरी तरह दूरी बना ली. हालांकि बाद में शशिकला ने उनसे माफी मांग ली. जयललिता का दिल पिघल गया और उन्होंने शशिकला को माफ कर दिया.

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close