छत्तीसगढ़

आर्थिक गणना हेतु प्रगणकों व सुपरवाइजरों को सभी जानकारियां निडर होकर दें: कलेक्टर

नारायणपुर

कलेक्टर श्री पी.एस.एल्मा के निर्देशानुसार जिले में सातवीं आर्थिक जनगणना का कार्य बीते 16 अगस्त 2019 से प्रारंभ किया गया है। जिसमें सीएससी प्रगणक एवं सुरपवाइजरों द्वारा घर-घर जाकर दुकान व प्रत्येक स्थायी संरचना में जाकर परिवार एवं स्वामित्वों से संपर्क कर रहे हैं। उनके द्वारा निर्धारित प्रारूप में डाटा संकलन मोबाईल एप के माध्यम ससे संबंधितों से क्रियाकलाप, उद्यमों, गतिविधयों की जानकारी ली जा रही है।
    कलेक्टर श्री एल्मा ने जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा है कि जिले के समस्त जनता व उद्योग धंधों से जुड़े सभी लोग भारत सरकार की सातवीं आर्थिक गणना के क्षेत्रीय कार्यों में संलग्न सीएससी के रजिस्टर्ड प्रगणकों व सुपरवाइजरों को सभी जानकारियां बिना डरे निडर होकर प्रदान करने में सहयोग करें। प्रगणकों व सुपरवाइजरों द्वारा मुखिया का नाम, परिवार के सदस्यों की संख्या, उद्यम, क्रियाकलाप का लायसेंस, उद्यम का नाम व प्रकार, वार्षिक अर्न ओवर सहित अन्य छोटी-छोटी जानकारी ली जायेगी। जिससे शासन को नीति निर्माण, योजना बनाने हेतु सही आकड़े प्राप्त हो सके। नागरिकों द्वारा उपलब्ध करायी गयी समस्त जानकारी गोपनीय रखी जायेगी।
    बता दे कि भारत सरकार द्वारा सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय नई दिल्ली के निर्देशानुसार सातवीं आर्थिक गणना करायी जा रही है। आर्थिक गणना हेतु जिले को 34703 का लक्ष्य प्राप्त हुआ था, जिसके विरूद्ध में अब तक 13810 का क्रियाकलाप/उद्यमों/गतिविधियों की जानकारी मोबाईल एप के माध्यम से अपलोड किया जा चुका है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close