उत्तर प्रदेश

कोटा में मरने वाले बच्‍चों की माताओं का दर्द नहीं समझ पा रहीं सोनिया-प्रियंका: योगी आदित्‍यनाथ

 
लखनऊ

राजस्‍थान में कोटा के सरकारी अस्‍पताल में 100 से ज्‍यादा बच्‍चों की मौत मामले को लेकर उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर निशाना साधा है। योगी ने कहा कि माताओं की गोद उजड़ना सभ्य समाज, मानवीय मूल्यों और संवेदनाओं पर धब्बा है। अत्यंत क्षोभ है कि सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी महिला होकर भी इन माताओं का दुख नहीं समझ पा रही हैं। बता दें कि इस मामले को संज्ञान में लेते हुए सोनिया गांधी ने राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत से रिपोर्ट तलब की है जो उन्‍हें भेज दी गई है।
मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ऑफिस के टि्वटर हैंडल से गुरुवार को कोटा में बच्‍चों के मौत मामले से जुड़े दो ट्वीट किए गए। एक ट्वीट में प्रियंका गांधी पर भी हमला बोला गया है। योगी ने कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा अगर उत्‍तर प्रदेश में राजनीतिक नौटंकी करने की जगह पर राजस्‍थान में उन गरीब पीड़ित माताओं से जाकर मिलतीं, जिनकी गोद केवल उनकी पार्टी की सरकार की लापरवाही की वजह से सूनी हो गई है तो उन परिवारों को कुछ सांत्वना मिलती। इनको किसी की न चिंता है, न कोई संवेदना, जनसेवा नहीं सिर्फ राजनीति करनी है।

2018 में हुई थीं ज्‍यादा मौतें
बता दें कि कोटा जिले के जेके लोन अस्पताल में दिसंबर के अंतिम दो दिन में कम से कम नौ और शिशुओं की मौत हो गई। इसके साथ ही इस महीने अस्पताल में मरने वाले शिशुओं की संख्या 100 तक पहुंच गई है। गत 23-24 दिसंबर को 48 घंटे के भीतर अस्पताल में 10 शिशुओं की मौत को लेकर काफी हंगामा हुआ था। हालांकि, अस्पताल के अधिकारियों ने कहा था कि यहां 2018 में 1,005 शिशुओं की मौत हुई थी और 2019 में उससे कम मौतें हुई हैं। बताया जा रहा है कि सभी की मौत जन्म से कम वजन के चलते हुई है।
 
स्‍पीकर ने दोबारा जताई चिंता
वहीं, लोकसभा स्पीकर और कोटा सांसद ओम बिरला ने बच्चों की मौत पर गंभीर चिंता जताते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को एक बार फिर खत लिखा है। बिरला ने ट्वीट किया, 'राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पुनः स्मरण पत्र भेजकर संसदीय क्षेत्र कोटा के जेके लोन मातृ एवं शिशु चिकित्सालय में शिशुओं की असमय मृत्यु की प्रतिदिन बढ़ती संख्या को देखते हुए संवेदनशीलता के साथ चिकित्सा सुविधाओं को मजबूत बनाने के लिए आग्रह किया।'
 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close