मनोरंजन

CAA के प्रदर्शनों से प्रभावित होकर सुधीर मिश्रा बनाएंगे फिल्म

पिछले कुछ दिनों से देशभर में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल रहे हैं। इन प्रदर्शनों से प्रभावित होकर फिल्ममेकर सुधीर मिश्रा ने यह फैसला लिया है कि वह साल 1987 में रिलीज हुई अपनी पहली फिल्म 'ये वो मंजिल तो नहीं' का रीमेक बनाएंगे। यह फिल्म 3 ऐसे दोस्तों की कहानी थी जो अपने स्कूल रीयूनियन में वापस जाते समय अपने स्कूली दिनों में किए आंदोलन और उनमें मिली असफलता को याद करते हैं।

बता दें कि इस फिल्म के लिए सुधीर मिश्रा को बेस्ट डेब्यू डायरेक्टर का नैशनल फिल्म अवॉर्ड मिला था। नए साल के मौके पर सुधीर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इस रीमेक को बनाए जाने की घोषणा की है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, 'मैं अपनी पहली फिल्म का रीमेक बनाने जा रहा हूं। आजकल के छात्रों को देखकर मेरे मन में यह विचार आया। हालांकि यह बिल्कुल मूल फिल्म जैसी नहीं होगी।'

सुधीर मिश्रा की 'ये वो मंजिल तो नहीं' में नसीरुद्दीन शाह, मनोहर सिंह, हबीब तनवीर, बीएम शाह, पंकज कपूर और सुष्मिता मुखर्जी मुख्य भूमिकाओं में थे। अब देखना दिलचस्प होगा कि रीमेक के जरिए सुधीर मिश्रा आजकल के स्टूडेंट्स को क्या मेसेज देना चाहते हैं।

Related Articles

Back to top button
Close
Close