देश

आतंकी हमले का अलर्ट, अमेरिकी विमानों को PAK एयरस्पेस ना इस्तेमाल करने की हिदायत

 
नई दिल्ली 

अमेरिका ने अपनी विमान कंपनियों के लिए एडवाइजरी जारी की है. अमेरिका ने कंपनियों को पाकिस्तान के एयरस्‍पेस का इस्‍तेमाल करने से बचने के लि‍ए कहा है. एडवाइजरी में कहा गया है कि पाकिस्तान में अमेरिकी विमानों पर आतंकी हमला हो सकता है. यूएस फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन (एफएए) ने एक बयान में कहा कि विमान पाकिस्तानी आतंकवादी समूहों का निशाना हो सकते हैं. यह एडवाइजरी तब जारी हुई है जब दो दिन पहले इराक की राजधानी बगदाद में अमेरिकी दूतावास पर कई प्रदर्शनकारियों ने हमला कर दिया था.

क्या कहा गया एडवाइजरी में

एडवाइजरी में कहा गया है कि आतंकी संगठन और कट्टरपंथियों की ओर से अमेरिकी विमानों को खतरा हो सकता है. ऐसे विमानों को खतरा हो सकता है जो ज्यादा नीचे उड़ान भरते हैं. पाकिस्तान में कुछ आतंकी संगठनों पर शक है कि उनकी पहुंच मैन पोर्टेबल एयर डिफेंस सिस्टम तक हो गई है. संभव है कि पाकिस्तान में सिविल एविएशन पर भी इसके जरिए हमला हो सकता है.

डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान को ठहराया था जिम्मेदार

बगदाद में दूतावास पर हमले के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान को जिम्मेदार ठहराया था. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि इराक में अमेरिकी दूतावास पर ईरान हमले करवा रहा है.
 
इससे पहले अमेरिका ने एक हवाई हमले में ईरान समर्थित एक गुट पर हमला किया था, जिसमें 25 की मौत हुई थी. अमेरिका का आरोप था कि इस गुट का अमेरिकी ठेकेदार की मौत के पीछे हाथ था. इसी के विरोध में इराक के बगदाद में ईरानी समर्थक अमेरिका के खिलाफ हल्ला बोल किए हुए थे.

बता दें कि पिछले साल फरवरी में बालाकोट में भारत की कार्रवाई के बाद पाकिस्तान का एयरस्पेस सुर्खियों में था. पाकिस्तान ने 16 जुलाई को करीब 5 महीने बाद अपना एयरस्पेस भारत के लिए खोला था. बालाकोट में भारत की कार्रवाई के बाद पाकिस्तान ने बौखलाहट में अपना एयरस्पेस पिछले साल 26 फरवरी को बंद कर दिया था. पाकिस्तान ने पिछले साल अक्टूबर में पीएम मोदी को सऊदी अरब जाने के लिए भी अपना एयरस्पेस इस्तेमाल करने से मना कर दिया था.

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close