राजनीति

कोटा: 104 मौतें, माया बोलीं- गहलोत हों बर्खास्त

कोटा
दिसंबर से लेकर अब तक 100 से ज्यादा बच्चों की मौत के बाद कोटा के जेके लोन अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाएं सवालों के घेरे में हैं। बुधवार को तीन और गुरुवार को एक और बच्चे की मौत के बाद मरने वाले बच्चों की संख्या 104 तक पहुंच गई है। भयावह हालात को देखते हुए गुरुवार को अस्पताल प्रशासन ने एक और नियोनेटल इंटेंसिव केयर यूनिट (NICU) शुरू करने का फैसला किया है। इस बीच बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने एक बार फिर कांग्रेस सरकार पर हमला बोला है।

अस्पताल के 40 वॉर्मर होंगे रिपेयर
जेके लोन अस्पताल में एक और एनआईसीयू के अलावा 13 इन्फ्यूजन पंप इंस्टॉल किए जाएंगे। इसके साथ ही 40 वॉर्मर रिपेयर किए जाएंगे। अस्पताल के सुपरिंटेंडेंट डॉ. सुरेश दुलारा, कोटा न्यू मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. विजय सरदाना और अस्पताल के डेप्युटी सुपरिंटेंडेंट गोपी कृष्ण शर्मा ने बैठक की। शर्मा ने कहा, 'दो नवजातों और एक अन्य एक साल के बच्चे की बुधवार को मौत हो गई। वहीं, गुरुवार को एक महीने के बच्चे की निमोनिया से मौत हो गई।'

मायावती ने गहलोत के बयान को बताया शर्मनाक
कोटा के अस्पताल में बच्चों की मौत को लेकर राज्य की अशोक गहलोत सरकार चौतरफा घिरी हुई है। विपक्ष इस मामले में लगातार गहलोत सरकार पर हमलावर रुख अपनाए हुए है। बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने लगातार दूसरे दिन सिलसिलेवार ट्वीट करते हुए कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है। मायावती ने ट्वीट में सीएम गहलोत पर वार करते हुए कहा, 'राजस्थान की कांग्रेसी सरकार के सीएम गहलोत का, कोटा में लगभग 100 मासूम बच्चों की हुई मौत पर, अपनी कमियों को छिपाने के लिए आए-दिन चोरी व ऊपर से सीनाजोरी वाले अर्थात गैर-जिम्मेदाराना व असंवेदनशील तथा अब राजनैतिक बयानबाजी करना अति शर्मनाक व निन्दनीय।'

गहलोत को तुरंत बर्खास्त करें: मायावती
एक और ट्वीट में मायावती ने गहलोत की बर्खास्तगी की मांग करते हुए कहा, 'ऐसे में कांग्रेस का लगभग 100 माओं की कोख उजड़ जाने पर केवल अपनी नाराजगी जताने से काम नहीं चलेगा बल्कि इनको तुरंत बर्खास्त करके वहां अपने सही व्यक्ति को सत्ता में बैठाना चाहिए तो यह बेहतर होगा। वरना वहां और भी माओं की कोख उजड़ सकती है।'

केंद्र ने बनाई हाई लेवल टीम, सोनिया गंभीर
इस मुद्दे पर गरमाई राजनीति के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने राजस्थान सरकार को अतिरिक्त सहायता देने का आश्वासन दिया। उन्होंने मामले में एक उच्‍चस्‍तरीय टीम का गठन किया है। इसमें एम्‍स जोधपुर के विशेषज्ञ डॉक्‍टर, हेल्‍थ फाइनेंस ऐंड रीजनल डायरेक्‍टर और जयपुर हेल्‍थ सर्विस के लोग शामिल होंगे। यह टीम शुक्रवार को कोटा स्थित जेके लोन सरकारी अस्‍पताल पहुंच रही है। मामले के तूल पकड़ने पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गुरुवार को पार्टी के राज्य प्रभारी अविनाश पांडे से उठाए गए कदमों की जानकारी ली। इसके साथ ही सीएम गहलोत ने अस्पताल के ताजा हालात पर सोनिया को एक रिपोर्ट भी भेजी है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close