खेल

सुशील कुमार इंजरी की वजह से नहीं ले पाएंगे ओलंपिक ट्रायल में हिस्सा

नई दिल्ली
 चोटिल सुशील कुमार के पुरुषों के 74 किग्रा फ्रीस्टाइल के ट्रायल टालने के आग्रह के बावजूद भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआइ) ने इस वर्ग के ट्रायल भी पूर्व कार्यक्रम के अनुसार करवाने का फैसला किया है। इस स्टार पहलवान को हालांकि मार्च में टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने का मौका मिल सकता है।

अपने करियर को पुनर्जीवित करने के लिए संघर्षरत सुशील हाथ में चोट के कारण शुक्रवार को होने वाले ट्रायल से हट गए हैं और उन्होंने अपने वर्ग के ट्रायल को टालने का आग्रह किया। ट्रायल के विजेता को रोम में 15 से 18 जनवरी के बीच होने वाले पहले रैकिंग सीरीज टूर्नामेंट, नई दिल्ली में 18 से 23 फरवरी के बीच होने वाली एशियाई चैंपियनशिप और चीन के झियान में 27 से 29 मार्च के बीच होने वाले एशियाई ओलंपिक क्वालीफायर के लिए भारतीय टीम में जगह मिलेगी।

डब्ल्यूएफआइ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि सभी वर्गों (पुरुष फ्रीस्टाइल में पांच और ग्रीको रोमन में छह) में आयोजित किए जाएंगे। सिंह ने कहा कि निश्चित तौर पर ट्रायल टाले नहीं जाएंगे। हमारे पास 74 किग्रा में लड़ने वाले पहलवान हैं। सुशील अगर चोटिल हो गए तो हम क्या कर सकते हैं।

डब्ल्यूएफआइ अध्यक्ष से पूछा गया कि क्या सुशील को एशियाई क्वालीफायर में मौका दिया जाएगा, उन्होंने कहा कि हम रैंकिंग सीरीज में 74 किग्रा के विजेता का प्रदर्शन देखेंगे। इसके बाद ही हम अगले कदम पर फैसला करेंगे। पुरुष फ्रीस्टाइल में रवि दहिया (57 किग्रा), बजरंग (65 किग्रा) और दीपक पूनिया (86 किग्रा), जबकि महिला वर्ग में विनेश फोगाट (53 किग्रा) ने नूर सुल्तान में विश्व चैंपियनशिप में टोक्यो ओलंपिक गेम्स के लिए कोटा हासिल किया था। रवि, दीपक और विनेश को ट्रायल में भाग लेने के लिए कहा गया है। इन वर्गों के लिए मुकाबला केवल रोम और नई दिल्ली प्रतियोगिताओं के लिए होगा।

डब्ल्यूएफआइ के सहायक सचिव विनोद तोमर ने कहा कि अगर डब्ल्यूएफआइ को लगता है कि मार्च में एशियाई क्वालीफायर (टोक्यो गेम्स के लिए) के लिए दमदार उम्मीदवार नहीं है तो सुशील को ट्रायल में शामिल होने के लिए कहा जा सकता है। सुशील अपने करियर को फिर से ढर्रे पर लाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। वह अपने रूसी कोच कमाल मालिकोव के साथ अभ्यास कर रहे थे।

सुशील ने कहा कि मैं दो सप्ताह में फिट हो जाऊंगा। चिंता मत करो, मैं वापसी करूंगा। विश्व चैंपियनशिप के बाद अभ्यास करते हुए मैं चोटिल हो गया था। डब्ल्यूएफआइ इस बारे में जानता है। अगर वे ट्रायल करवाना चाहते हैं तो ठीक है। महिला ट्रायल शनिवार को लखनऊ में होंगे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close