उत्तर प्रदेश

SP-BSP-कांग्रेस में उपद्रवियों के तुष्टीकरण के लिए चल रहा है T-20 मैच: दिनेश शर्मा

 लखनऊ 
उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और कांग्रेस पर एकसाथ निशाना साधा है. शुक्रवार को तीनों पार्टियों पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि इनके बीच तुष्टीकरण और असामाजिक तत्वों को बढ़ावा देने के लिए एक अलग तरह का ट्वेंटी-20 मैच चल रहा है। शर्मा ने आरोप लगाया कि इन दलों के बीच एक दूसरे से आगे निकलने की होड़ सी मची हुई है।

बीजेपी और भगवा को गाली देने की होड़

शर्मा ने कहा, 'सपा, बसपा और कांग्रेस में उपद्रवियों के तुष्टीकरण और असमाजिक तत्वों को बढ़ावा देने की प्रवृत्ति में एक अलग तरह का ट्वेंटी-20 मैच चल रहा है। इस मैच में होड़ लगी है कि कौन तुष्टीकरण, गाली और अमर्यादित शब्दों का प्रयोग बीेजेपी और भगवा के खिलाफ करता है।' उन्होंने कहा, 'सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अपने वक्तव्य में नई-नई बातों का उल्लेख किया है। उनके विधानसभा दल के नेता (राम गोविंद चौधरी) उनसे भी आगे निकल गए हैं और उपद्रवियों को सम्मान और पेंशन देने की बात कर रहे हैं। इस पर आश्चर्य नहीं हुआ क्योंकि ये लोग पूर्व में ही आतंकवादियों के मुकदमे वापस लेने का जो प्रयास किया गया था उस पर न्यायालय ने हस्तक्षेप किया था।'

सपा उपद्रवियों को पेंशन देने की कर रही बात- डिप्टी सीएम

समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता और विधानसभा दल के नेता राम गोविंद चौधरी ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) का विरोध करने वाले लोगों का समर्थन करते हुए शुक्रवार को कहा कि उत्तर प्रदेश में उनकी पार्टी की सरकार बनने पर ऐसे लोगों को पेंशन दी जाएगी। दिनेश शर्मा ने कहा, 'विधानसभा में समाजवादी पार्टी के नेता राम गोविंद चौधरी नागरिकता संशोधन कानून के दौरान उपद्रव करने वालों को संविधान रक्षक सम्मान देने की बात कर रहे हैं। इतना ही नहीं उनको पेंशन भी देंगे। यह सब तो समाजवादी पार्टी के डीएनए में हैं। उन्होंने आतंकियों का भी सम्मान किया था। यह तो बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि समाजवादी पार्टी के नेता रोहिंग्या मुसलमानों के साथ बांग्लादेशी घुसपैठियों को भी नागरिकता देने की बात कर रहे हैं।'

'जनता को विकास योजनाओं से वंचित करने की साजिश रच रहे अखिलेश यादव'

उन्होंने कहा, 'समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव कहते हैं कि एनपीआर में हम रजिस्टर नहीं कराएंगे। उनको शायद जानकारी नहीं है कि सारी विकास योजनाओं का आधार एनपीआर है। वह लोगों को विकास योजनाओं से वंचित करने की साजिश कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि अखिलेश यादव प्रदेश की जनता को गुमराह करके विकास की योजनाओं से वंचित कर देना चाहते हैं। जनसंख्या रजिस्टर विकास योजनाओं का आधार है। योगी आदित्यनाथ सरकार के कार्यकाल में रोजगार और निर्यात दोनों ही बढ़े हैं। प्रदेश में निर्यात बढ़ा है, बड़ी बड़ी कंपनिया प्रदेश में उद्योग लगाने के लिए एमओयू साइन कर रही हैं, कई नई चीनी मिलें खुली हैं। नए-नए मेडिकल कॉलेज खुल रहे हैं। एक्सप्रेस वे बन रहे हैं। इन सब विकास कार्यों से प्रदेश में रोजगार के नए अवसर पैदा हो रहे हैं।

सपा सरकार में हुए थे 400 से ज्यादा दंगे

दिनेश शर्मा ने विपक्ष द्वारा प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए जाने पर कहा कि पिछली सपा सरकार में 400 से ज्यादा दंगे हुए थे। इस बार एक भी सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ है। वह इन मसलों पर कभी नहीं बोलते।

Related Articles

Back to top button
Close
Close