मध्य प्रदेश

आई.सी.एम. सिस्टम से जुड़ेंगे महाविद्यालय : बनाई जाएगी स्पोर्ट्स टूरिज्म पॉलिसी

भोपाल

उच्च शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री  जीतू पटवारी ने वर्ष 2020 की 20-सूत्रीय विभागीय कार्य-योजना की जानकारी देते हुए बताया है कि प्रदेश के सभी महाविद्यालय इंटीग्रेटेड कॉलेज मैनेजमेंट सिस्टम से जुड़ेंगे। इससे विद्यार्थी कहीं से भी अधोसंरचना, पाठ्यक्रम, विभागीय योजनाओं आदि की सम्पूर्ण जानकारी ऑनलाइन पोर्टल पर देख सकेंगे।  पटवारी ने बताया कि खेलों को आमजन से जोड़ने के लिये जल्द ही स्पोर्ट्स टूरिज्म पॉलिसी बनाई जाएगी। प्रदेश में खेल अधोसंरचनाओं को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विकसित किया जाएगा। प्रदेश में अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताएँ आयोजित की जाएंगी, जिससे खेल पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

कॉमन कॅरियर पोर्टल

उच्च शिक्षा मंत्री  पटवारी ने बताया कि प्रदेश के विद्यार्थियों को पहली बार कॉमन कॅरियर पोर्टल के माध्यम से रोजगार की अद्यतन जानकारी और ऑनलाइन आवेदन की सुविधा प्राप्त होगी। उन्होंने बताया कि यह एक ऐसा आदर्श प्लेटफार्म होगा, जिस पर रोजगार देने और रोजगार लेने वाले, दोनों ही उपलब्ध रहेंगे।

उत्कृष्ट महाविद्यालयों की स्थापना

प्रदेश के 8 संभाग में संचालित महाविद्यालयों का नवीन उत्कृष्ट महाविद्यालय में उन्नयन करने के लिये पायलेट प्रोजेक्ट बनाया जायेगा। इस प्रोजेक्ट में महाविद्यालय राष्ट्रीय स्तर के स्वरूप में संचालित किये जाएंगे।

दो हजार करोड़ से 200 महाविद्यालयों का आधुनिकीकरण

मंत्री  पटवारी ने बताया कि वर्ष 2020 में दो हजार करोड़ व्यय कर 200 महाविद्यालयों का आधुनिकीकरण किया जायेगा। इस प्रक्रिया में शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार के लिये आधुनिक कम्प्यूटर लैब, स्मार्ट क्लासेस, लैंग्वेज लैब, ई-लायब्रेरी और भवन उन्नयन का कार्य किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 50 भवन-विहीन महाविद्यालयों का निर्माण कार्य एक वर्ष में पूर्ण किया जाएगा।  पटवारी ने कहा कि रूसा द्वारा 67 महाविद्यालय में भवन उन्नयन और उपकरण उपलब्ध कराने के कार्य किये जाएंगे।

उच्च-स्तरीय टीचर्स ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट की स्थापना

उच्च शिक्षा मंत्री  पटवारी ने बताया कि शिक्षकों को आधुनिक शिक्षण पद्धति से परिचित कराने के उद्देश्य से प्रदेश में उच्च-स्तरीय टीचर्स ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट की स्थापना की जाएगी। उन्होंने बताया कि लोक सेवा आयोग के माध्यम से 300 प्राचार्यों की सीधी भर्ती की प्रक्रिया इसी वर्ष आरंभ की जाएगी। इसके अतिरिक्त, प्रतिवर्ष 500 सहायक प्राध्यापकों की भर्ती होगी।  पटवारी ने बताया कि राजीव ज्ञान ज्योति अभियान योजना के माध्यम से ऑनलाइन पोर्टल पर महाविद्यालयों में पदस्थ प्राध्यापकों की अकादमिक उपलब्धियों का संग्रह उपलब्ध रहेगा।

इंदौर में होगी वर्ल्ड ड्रेगन बोर्ड चैम्पियनशिप

मंत्री  जीतू पटवारी ने खेल एवं युवा कल्याण गतिविधियों की वर्ष 2020 की कार्य-योजना की जानकारी देते हुए बताया कि देश में पहली बार हो रही वर्ल्ड ड्रेगन बोर्ड चैम्पियनशिप का आयोजन इंदौर में किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष भोपाल में एशियन रोइंग चैम्पियनशिप आयोजित होगी।  पटवारी ने कहा कि पीपीपी मोड से भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर और उज्जैन में स्पोर्ट्स इन्फ्रास्ट्रक्चर स्थापित किया जाएगा। पायलेट प्रोजेक्ट के तहत इंदौर में स्पोर्ट्स प्रोजेक्ट कॉम्पलेक्स का प्रस्ताव तैयार किया जाएगा।

खेल नीति में स्पोर्ट्स कोटे का प्रावधान

मंत्री  पटवारी ने बताया कि छिंदवाड़ा में फुटबाल और इंदौर में स्वीमिंग अकादमी की स्थापना की जा रही है। प्रदेश के 12 स्थानों ब्यावरा, राजगढ़, खिलचीपुर, सारंगपुर, नरसिंहपुर, विदिशा, बैरागढ़, शिवपुरी, पोहरी, कोलारस, अशोकनगर और पवई में इण्डोर हॉल बनाये जाएंगे।  पटवारी ने बताया कि क्षेत्रीय विधायकों को खेलों की सुविधा बढ़ाने के लिये 10-10 लाख रुपये की सहायता दी जायेगी। इसमें 5 लाख रुपये विधायक निधि से और 5 लाख रुपये विभाग द्वारा उपलब्ध कराये जाएंगे।  पटवारी ने बताया कि नई खेल नीति में स्पोर्ट्स कोटे का प्रावधान किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि भोपाल स्थित ऐशबाग और तुलसी नगर स्टेडियम में हॉकी टर्फ बदला जाएगा। साथ ही, बालाघाट और इंदौर में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के हॉकी टर्फ का निर्माण शुरू किया जाएगा।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close