खेल

अंडर 19 वर्ल्ड कप: मैच के बाद खिलाड़ियों में लड़ाई, प्रियम गर्ग ने कहा, ‘डर्टी’

नई दिल्ली 
रविवार को बांग्लादेश की अंडर 19 क्रिकेट टीम ने वर्ल्ड कप जीतकर अपने देश के लिए सुनहरा इतिहास रच दिया। साउथ अफ्रीका के पोटचेफ्सट्रूम में यहां बांग्लादेश ने भारत को 3 विकेट से हराकर पहली बार इस खिताब पर अपना कब्जा जमाया। लेकिन उसके खिलाड़ियों ने इस उसकी इस जीत पर अपने नकारात्मक व्यवहार से अपने देश की छवि पर पलीता लगा दिया है। अपने खिलाड़ियों के गैर-जरूरी आक्रामक और नकारात्मक व्यवहार के लिए बांग्लादेश की इस युवा टीम के कप्तान अकबर अली को भी माफी मांगनी पड़ी है। भारतीय टीम के कप्तान प्रियम गर्ग ने बांग्लादेशी खिलाड़ियों की इस हरकत को 'डर्टी' करार दिया है। इस खिताब को जीतने वाली बांग्लादेश की टीम ने पहली बार क्रिकेट में कोई चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया है। यह उपलब्धि दर्ज करने के बाद बांग्लादेश की खिलाड़ियों ने जोश में अपने होश ही खो दिए और वह मैच खत्म होने के तुरंत बाद भारतीय टीम के खिलाड़ियों से मैदान पर ही भिड़ पड़े। बांग्लादेश के खिलाड़ी इस घटना से पहले भी मैच में अपनी फील्डिंग के दौरान भारतीय बल्लेबाजों से भिड़ रहे थे। वह हर बार आक्रामकता दिखा रहे थे लेकिन मैच के बाद तो उन्होंने सारी हदें ही पार कर दीं और भारतीय खिलाड़ियों से गाली-गलौच की और उनकी टीम के दो खिलाड़ी तो धक्कामुक्की करने तक कर गए। 

बांग्लादेश के कप्तान अकबर अली ने इस शर्मनाक घटना के लिए माफी मांगी। अली ने कहा, 'क्रिकेट को जेंटलमैन गेम के रूप में जाना जाता है। ऐसे में अपनी टीम की तरफ से मैं माफी मांगता हूं। यहां जो भी हुआ, वह नहीं होना चाहिए था।' क्रिकइन्फो की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत के कप्तान प्रियम गर्ग से जब इस पर प्रतिक्रिया मांगी गई तो, उन्होंने साफतौर पर बांग्लादेशी खिलाड़ियों को इसके लिए जिम्मेदार बताया और उन्होंने मैच के दौरान भी विरोधी टीम के खिलाड़ियों के व्यवहार की याद दिलाई। प्रियम गर्ग ने कहा, 'हम सहज थे। हमने यही सोचा कि यह खेल का हिस्सा है- आप कुछ जीतते हैं और कुछ हार जाते हैं।' उन्होंने कहा, 'लेकिन उनकी प्रतिक्रिया 'डर्टी' (गंदी) थी। मैं समझता हूं यह नहीं होना चाहिए था। लेकिन ठीक है।' बता दें आईसीसी इस मामले पर 'गंभीर' है। आईसीसी सोमवार को इस मसले पर अपना स्टैंड साफ करेगी। अभी उसे मैच रेफरी ग्रीम लैबोय की रिपोर्ट का इंतजार है। 

Related Articles

Back to top button
Close
Close