उत्तर प्रदेश

रघुराज सिंह के बुर्का बैन वाले बयान से भड़की बीजेपी, जारी किया नोटिस

लखनऊ

मुस्लिम महिलाओं के बुर्का पहनने पर बैन की मांग करने वाले उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में राज्यमंत्री रघुराज सिंह को बीजेपी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है. बीजेपी ने उन्हें इस पर सफाई देने के लिए सात दिन का समय दिया है, साथ ही उनसे कहा है कि क्यों न उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया जाए?

यूपी बीजेपी द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने रघुराज सिंह को उनकी बुर्का पर टिप्पणी के लिए निंदा की है और इसे पार्टी के सिद्धांतों और विचारधारा के खिलाफ बताया.

उन्होंने कहा कि महिलाओं का सम्मान उनकी जाति और धर्म से ऊपर बेहद महत्वपूर्ण है. इस तरह की अनुशासनहीनता और गैर-जिम्मेदाराना टिप्पणी को बर्दाश्त नहीं की जा सकती है. उन्होंने कहा, कोई भी महिला चाहे वो हिंदू हो या मुस्लिम या किसी जाति या समुदाय से हो उनकी मर्यादा के प्रतिकूल कोई भी टिप्पणी स्वीकार नहीं है और न बर्दाश्त की जा सकती है.

टिप्पणी बर्दाश्त नहीं

इंडिया टुडे से बात करते हुए यूपी बीजेपी के प्रवक्ता डॉक्टर चंद्रमोहन ने कहा, हमारी पार्टी 'सबका साथ, सबका विकास' में विश्वास करती है और महिलाओं के खिलाफ इस तरह की टिप्पणी को कभी भी बर्दाश्त नहीं की जा सकती है. बीजेपी, अपने नागरिकों को सशक्त बनाने और उनका सम्मान करने के लिए प्रतिबद्ध है. कोई भी व्यक्ति जो पार्टी की विचारधारा के खिलाफ काम कर रहा है उसे कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि बुर्का पर देश भर में बैन की मांग करने वाली टिप्पणी पर्टी नेतृत्व के लिए बहुत बड़ी शर्मिदगी थी.

बता दें कि रघुराज सिंह ने कहा था कि देश में बुर्के पर बैन लगना चाहिए जैसे दूसरे कई देशों में है. उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि बुर्का श्रीलंका, चीन, अमेरिका और कनाडा में इस्तेमाल नहीं होता. इसे हमारे देश में भी बैन होना चाहिए, ताकि आतंकवादी इसका फायदा ना उठा सकें. उन्होंने कहा कि शाहीन बाग में भी लोग बुर्का पहनकर बैठे हैं. बुर्का आतंकवादियों, चोरों और असामाजिक तत्वों को छिपने में मदद करता है, इसलिए इस पर बैन लगना चाहिए.

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close