छत्तीसगढ़

सरगुजा की राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंह देव का दिल्ली में निधन, दिल्ली के मेदांता में ली अंतिम सांस

नई दिल्ली
दिल्ली के मेदांता अस्पताल (Medanta Hospital) से एक दुखद खबर आ रही है. छत्तीसगढ़ के पंचायत एवं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव की मां और सरगुजा की राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंह देव (Rajmata Devendra Kumari Singh Dev) का निधन (Death) हो गया है. बताया जा रहा है कि सोमवार की शाम 7 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली. मां के निधन की खबर सुनते ही स्वास्थ मंत्री टीएस सिंह देव दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, मंगलवार सुबह 11:00 बजे अम्बिकापुर में राजमाता का अंतिम संस्कार किया जाएगा. उनकी उम्र 86 साल थी.

स्व. देवेंद्र कुमारी सिंह देव का जन्म 13 जुलाई 1933 को हिमाचल प्रदेश के जब्बल राज परिवार में हुआ था. अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्य सचिव स्व. एमएस सिंह देव से विवाह के बाद वे सरगुजा आई थीं. सरगुजा में उन्होंने पूरा वक्त बिताया. यहीं से उन्होंने राजनीति की शुरुआत भी की थी. कांग्रेस की राष्ट्रीय नेत्री स्व. देवेंद्र कुमारी सिंह देव एक बार अंबिकापुर व एक बार बैकुंठपुर से विधायक भी रहीं. अविभाजित मध्य प्रदेश में प्रकाशचंद्र सेठी व अर्जुन सिंह के मंत्री मंडल की वे सहयोगी भी रहीं. उन्हें आवास, पर्यावरण, मध्यम सिंचाई, वित्त विभाग की जवाबदारी दी गई थी.

अंतिम समय तक वे सरगुजा के विकास और यहां के लोगों की खुशहाली से जुड़ी रहीं. उनके प्रयासों से सरगुजा में कई बड़े काम उनके मंत्रित्व काल में पूरे हुए थे. पिछले कुछ महीने से वे अस्वस्थ चल रही थीं. उनका उपचार नई दिल्ली के मेदांता अस्पताल में चल रहा था. सोमवार सुबह ही अंबिकापुर में यह सूचना आई थी कि राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंह देव की तबीयत अचानक ज्यादा बिगड़ गई है.

Related Articles

Back to top button
Close
Close