मध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस का कोई प्रकरण नहीं

भोपाल
विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा नोवेल कोरोना वायरस (2019-nCov) महामारी के मद्देनजर अंतर्राष्ट्रीय जन-स्वास्थ्य आपातकाल घोषित किया गया है। मध्यप्रदेश में यद्यपि कोरोना वायरस का कोई प्रकरण नहीं पाया गया है, तथापि डब्लूएचओ की सलाह अनुसार प्रदेश में अलर्ट जारी किया गया है। मुख्यमंत्री कमल नाथ एवं लोक परिवार कल्याण स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने प्रदेश की जनता से कोरोना वायरस से बचाव के लिए सावधानी बरतने की अपील की है।

राज्य-स्तरीय कॉल सेन्टर 104 स्थापित

     स्वास्थ्य विभाग सहित संबंधित सभी को इसके बचाव एवं सावधानी के बारे में सभी आवश्यक उपाय तुरंत किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। कोरोना वायरस बीमारी संबंधी जानकारी/सूचना आदि के लिए राज्य स्तर पर कॉल सेन्टर 104 स्थापित किया गया है। कॉल सेंटर में 30 ऑपरेटर्स कार्यरत हैं। सभी को प्रशिक्षण दिया जा चुका है।  

एयर पोर्ट पर स्क्रीनिंग की व्यवस्था

      प्रदेश में चीन से आने वाले यात्रिओं की एयर पोर्ट पर स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई है। एयर पोर्ट पर अंतर्राष्ट्रीय विमानों से आने वाले यात्रियों से स्व-घोषणा-पत्र भी भरवाए जा रहे हैं। विदेश मंत्रालय की सूचना पर चीन से आने वाले यात्रियों की निगरानी की जा रही है।

प्रत्येक जिला चिकित्सालय में आइसोलेशन वार्ड

      प्रदेश के प्रत्येक जिला चिकित्सालय में 2 से 6 बिस्तरीय तक तथा सभी चिकित्सा महाविद्यालयों में 10-10 बिस्तरीय आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं। टर्शिअरी केअर के लिए निजी चिकित्सालयों की सेवाएँ भी ली जाएंगी। एम्स तथा डिकल कॉलेज में राज्य-स्तरीय नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। अस्पतालों में  स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। जिला सर्विलेन्स अधिकारी एवं जिला एपिडिमियोलॉजिस्ट को प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

चीन एवं प्रभावित देशों से आए यात्रियों की पहचान

      प्रदेश में चीन एवं प्रभावित देशों से आए यात्रियों की पहचान के लिए होटल एसोसिएशन एवं पर्यटन विभाग से समन्वय कर कार्रवाई की जा रही है। होटल में रुके यात्रियों की भी पहचान की जा रही है। साँची स्तूप के पास विदेशी पर्यटकों की जांच की जा रही है। केमिस्ट एसोसिएशन के माध्यम से आमजन के लिये मास्क आदि की व्यवस्था की जा रही है।

145 व्यक्ति होम आइसोलेशन में

      चीन अथवा अन्य संक्रमित देशों से आने वाले यात्रियों का उनके घर पर ही आइसोलेशन किए जाने एवं स्वास्थ्य संबंधी जाँच के निर्देश जारी किए गए हैं। प्रदेश में ऐसे 151 व्यक्ति चिन्हित किए गए हैं, जिनमें से अभी 145 व्यक्ति होम आइसोलेशन में हैं। प्रदेश में 13 संदिग्ध मरीजों को अस्पताल में भर्ती किया गया है, जिनमें 2 मरीज भोपाल एम्स एवं जिला अस्पताल विदिशा में भर्ती हैं। इन सभी मरीजों के सेम्पल पुणे लैब में भेजे गये थे, जिनकी परीक्षण रिपोर्ट भी निगेटिव आई है।

25 देशों में 37558 पॉजिटिव प्रकरण

      अभी तक विश्व के 25 देशों प्रमुखत: चीन, जापान, थाइलैंड, सिंगापुर, आस्ट्रेलिया, वियतनाम, साउथ कोरिया, जर्मनी, मलेशिया, यूएसए एवं होंगकोंग आदि में इसके कुल 37 हजार 558 पॉजिटिव प्रकरण पाए गए हैं। इनमें 813 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है। चीन में इसके 37 हजार 251 प्रकरण पॉजीटिव पाए गए हैं, इनमें 812 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है। भारत में अभी तक इसके 3 मरीज केरल राज्य में पाए गए हैं।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close