मध्य प्रदेश

शालाओं में खुलेंगे उपभोक्ता क्लब

भोपाल
प्रदेश की उच्चतर एवं माध्यमिक शालाओं में अगले शिक्षा सत्र से उपभोक्ता क्लब गठित किये जायेंगे। इनके माध्यम से उपभोक्ता जागरूकता के क्षेत्र में छात्र-छात्राओं की क्षमता विकसित कर उपभोक्ता संरक्षण गतिविधियों का प्रदेश में विस्तार किया जायेगा। यह निर्णय मंत्रालय में सम्पन्न मध्यप्रदेश राज्य उपभोक्ता कल्याण निधि 2009 के प्रावधान अन्तर्गत गठित स्थायी समिति की बैठक में लिया गया।

प्रमुख सचिव खाद्य-नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्रीमती नीलम शमी राव की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में उपभोक्ता जागरूकता एवं संरक्षण पर स्वयंसेवी संस्थाओं के उन्मुखीकरण के लिये जिलों में शिविर आयोजित करने का निर्णय लिया गया। समिति में प्रत्येक विकासखण्ड की दो-दो ग्रामीण उचित मूल्य दुकान स्तरीय सतर्कता समितियों को उपभोक्ता जागरूकता का कार्य दिये जाने के संबंध में जिलों से प्राप्त प्रस्तावों का अनुमोदन भी किया गया।

बैठक में उपभोक्ता संरक्षण के संबंध में जिलों से प्राप्त स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रस्तावों पर भी विचार किया गया। आयुक्त खाद्य-नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण श्री अविनाश लवानिया, राज्य उपभोक्ता प्रतिपोषण आयोग के रजिस्ट्रार श्री राजीव एम.आपटे सहित पंचायत एवं ग्रामीण विकास, स्कूल शिक्षा विभाग तथा नेशनल सेन्टर फॉर ह्यूमन सेटलमेंट एण्ड एन्वायमेंट के प्रतिनिधि बैठक में उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close