छत्तीसगढ़

सरगुजा राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव का अंतिम संस्कार आज

अम्बिकापुर
अविभाजित मध्यप्रदेश की पूर्व मंत्री व सरगुजा राजपरिवार की राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव का सोमवार की रात दिल्ली मेदांता अस्पताल में निधन हो गया। 86 वर्षीय राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव कुछ माह से अस्वस्थ थीं।

राजमाता के निधन की खबर मिलते ही मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ सहित सरगुजा में शोक है। श्री सिंहदेव के निवास पर उनके समर्थक व आम नागरिक काफी संख्या में पहुंचे। राजमाता का पार्थिव शरीर 12 फरवरी को सरगुजा लाया जाएगा। ग्यारह बजे दरिमा एयरपोर्ट एवं 12 से 3 बजे तक आमजनों के दर्शनार्थ पैलेस सरगुजा में रखा जाएगा। राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंह देव की अंतिम यात्रा दोपहर 3 बजे अम्बिकापुर के रघुनाथ पैलेस से प्रारम्भ होगी। कोठी घर के सामने स्थित रानी तालाब में राजमाता का अंतिम संस्कार होगा। अंतिम संस्कार में मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ के कई मंत्री व राजनेता शामिल होंगे।

सरगुजा की राजमाता देवेन्द्र कुमारी सिंहदेव हिमांचल प्रदेश के पूर्व जुब्बल रियासत की राजकुमारी थीं, जिनका शिमला में जन्म हुआ था। सरगुजा के महाराजा मदनेश्वर शरण सिंहदेव से 21 अप्रेल 1948  में विवाहित राजमाता देवेन्द्र कुमारी दो बार अम्बिकापुर तथा बैकुण्ठपुर से विधायक रहीं। वे अविभाजित मध्यप्रदेश की आवास एवं पर्यावरण मंत्री, मध्यम एव लघु सिंचाई मंत्री भी रहीं।

Related Articles

Back to top button
Close
Close