धर्म

केवल रोशनी ही नहीं देता दीपक, जीवन को भी करता है रोशन

आमतौर पर दीपक को केवल रोशनी प्रकाशित करने वाला एक जरिए माना जाता है। मगर अगर बात करें हिंदू धर्म की तो इसमें केवल इस रोशनी के लिए ही नहीं जाना जाता बल्कि इसमें दीपक का अपना अलग महत्व है। इतना तो सब जानते ही होंगे कि हिंदू धर्म की हर प्रकार की पूजा व धार्मिक कार्य में दीपक का इस्तेमाल किया जाता है। बल्कि बिना दीपक के किसी भी देवता की पूजा पूर्ण ही नहीं मानी जाती। यही कारण है कि ज्योतिष शास्त्र में इससे जुड़े कई उपाय बताएं गएं हैं जिससे जीवन में पैदा वास्तु दोष भी दूर हो जाते हैं। तो चलिए आपको बताते हैं दीपक के जुड़े कुछ ऐसे विशेष उपाय-

पति के भाग्य को उजागर करने के लिए तथा अपने वैवाहिक जीवन में खुशहाली के लिए घर की महिला रोज़ शाम को घर के मंदिर में घी का दीपक जलाएं तथा ॐ श्रीं ह्रीं कमले कमलालये प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ  महालक्ष्मयै नम: का 108 बार जाप करें।

जिस मैरिड कपल में रोज़ाना बार-बार झगड़े हो रहे हों वो रोज़ाना सुबह शाम श्री राम और माता सीता की तस्वीर या प्रतिमा के समक्ष घी का दीपक जलाएं तथा अपनी परेशानियों को दूर करने की प्रार्थना करें।

शत्रुओं से रक्षा पाने के लिए तथा अनजाना डर दूर करने के लिए हर सोमवार और शनिवार को भैरव मंदिर में सरसों के तेल का दीपक जलाएं।

समाज में मान-सम्मान साथ-साथ उसे घर-परिवार में भी मान-सम्मान प्राप्त हो परंतु ऐसा हो नहीं पाता औ ऐसे में इसके लिए रोज़ सुबह सूर्य को जल चढ़ाएं और उनके समक्ष दीपक जलाकर आरती करें। ये उपाय पति-पत्नी दोनों को कर सकते हैं।

शाम को दरवाज़े की दोनों तरफ़ तेल का या घी का दीपक जलाने से घर में सुख-समृद्धि बढ़ती है।

परिवार के किसी सदस्य की कुंडली में राहु-केतु का दोष हो तो घर में सुबह-शाम अलसी के तेल का दीपक जलाएं।

परिवार की सुख-समृद्धि के लिए भगवान विष्णु या बाल गोपाल यानि श्री कृष्ण स्वरूप के सामने घी का दीपक जलाएं और ॐ नमो भगवते वासुदेवाय या कृं कृष्णाय नम: मंत्र का जाप करें।

Related Articles

Back to top button
Close
Close