मध्य प्रदेश

सोशल मीडिया पर अब भी कमलनाथ सरकार में मंत्री बने हुए हैं बागी, यूजर्स कर रहे भद्दे कमेंट

भोपाल
कमलनाथ सरकार (Kamalnath Government) में सिंधिया खेमे से मंत्री रहे तुलसी सिलावट, महेंद्र सिंह सिसोदिया, इमरती देवी, गोविंद सिंह राजपूत और प्रभु राम चौधरी को बर्खास्त कर दिया गया है. अब उनके नाम के साथ बर्खास्त मंत्री लिखा है, लेकिन सोशल मीडिया (social media) पर वो अभी भी मंत्री बने हुए हैं. ऐसा नहीं कि वो एक्टिव नहीं हैं इसलिए अपना स्टेटस अपडेट नहीं किया है. बल्कि वो लगातार सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं और अपने ट्विटर अकाउंट को अपडेट कर रहे हैं. उनके ट्विटर अकॉउंट में उनके डिपार्टमेंट (विभाग) का जिक्र भी है. ये उनके ऑफिशियल अकाउंट बताये जा रहे हैं. ऐसे में सवाल है कि यह सभी जब सरकार में मंत्री नहीं है तो उनके ट्विटर अकाउंट को कौन हैंडिल कर रहा है. यूजर्स भी भरपूर मजे ले रहे हैं और वो सिंधिया समर्थक इन पूर्व मंत्रियों पर लगातार कमेंट कर रहे हैं.

कमलनाथ सरकार में महिला बाल विकास मंत्री रहीं इमरती देवी भी अभी बेंगलुरू में हैं, लेकिन उनका ट्वीटर अकाउंट पल-पल अपडेट हो रहा है. 14 घंटे पहले कल्पना चावला को लेकर किए गए ट्वीट को उन्होंने री-ट्वीट किया है. इसके अलावा पिछले हफ्ते भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल होने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया के ट्वीट को भी चार दिन पहले री-ट्वीट किया. राजनाथ सिंह से जब सिंधिया मिले थे, उस ट्वीट को भी इमरती देवी ने री ट्वीट किया है. उन्होंने दिवंगत माधवराव सिंधिया को लेकर भी एक ट्वीट किया था और फिर आठ मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर उन्होंने महिला बाल विकास विभाग के ट्वीट को भी री ट्वीट किया.

स्वास्थ्य मंत्री रहे तुलसी सिलावट के ट्विटर अकाउंट पर भी उनके तमाम विभागों का जिक्र हैं. उन्होंने छह दिन पहले एक ट्वीट कर कहा कि मैं सिंधिया जी के हर निर्णय में उनके साथ हूं. उन्होंने माधवराव सिंधिया को शत-शत नमन करने वाला ट्वीट किया. ट्वीट के जरिए उन्होंने देशवासियों को होली की शुभकामनाएं भी दी थीं. सबसे चौंकाने वाला ट्वीट रहा आठ मार्च का जब उन्होंने मुख्यमंत्री कल्याण योजना की तारीफ करते हुए ट्वीट किया था.

वहीं प्रभु राम चौधरी के अकाउंट पर अब भी उनके विभाग का जिक्र है और उन्हें मंत्री बताया जा रहा है. हालांकि बीते सात मार्च के बाद उन्होंने कोई भी ट्वीट नहीं किया है और ना ही किसी ट्वीट को री ट्वीट किया. उन्होंने सात मार्च को एमपी बोर्ड परीक्षा के पेपर को लेकर जरूर ट्वीट किया था. गोविंद सिंह राजपूत के ट्विटर अकाउंट पर भले ही उनके विभाग का जि़क्र नहीं है. लेकिन उनके ट्विटर हैंडल पर कांग्रेस का जिक्र है. उन्होंने तीन दिन पहले सभी को रंगपंचमी की बधाई दी थी. मुख्यमंत्री कमलनाथ के ट्वीट को नौ मार्च को उन्होंने री ट्वीट किया था. महेंद्र सिंह सिसोदिया का ट्विटर अकाउंट अपडेट नहीं है. लेकिन उनके अकाउंट पर उनके मंत्री होने के साथ-साथ उनके तमाम विभागों का भी जिक्र है.कमेंट बॉक्स में इमरती देवी को कहा अनपढ़ तुलसी सिलावट और इमरती देवी के अकाउंट सबसे ज्यादा अपडेट हैं.

हालांकि इनके इस प्लेटफॉर्म पर जो कमेंट आ रहे हैं वो काफी आलोचना वाले हैं. कई लोग कह रहे हैं कि मैडम जी प्रोफाइल से कांग्रेस हटा दो. एक ने लिखा कि आप लोग अपनी विधानसभा सीट बचाइए. आपका भविष्य कांग्रेस में है, बीजेपी में नहीं. आपका एक ही रास्ता है- कांग्रेस. एक व्यक्ति ने लिखा, ईश्वर आपकी परीक्षा ले रहा है. टिकाऊ हुआ या बिकाऊ. एक ने लिखा कि सिंधिया (ज्योतिरादित्य सिंधिया) तो एडजेस्ट हो गए, आपका क्या होगा. एक अन्य यूजर ने लिखा अब चुनाव हार जाओगे. एक व्यक्ति ने लिखा आडवाणी (लाल कृष्ण आडवाणी) जैसा हाल हो जाएगा. तो वहीं एक यूजर ने लिखा आपके बेटे की राजनीति खत्म हो जाएगी. किसी अन्य यूजर ने लिखा अनपढ़ महिला को प्रदेश की मंत्री बनाने की सजा तो मिलनी ही थी.

Related Articles

Back to top button
Close
Close