मध्य प्रदेश

मुख्यमंत्री की समीक्षा के बाद स्लीमनाबाद टनल का काम तेज

भोपाल
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा स्लीमनाबाद टनल के  कार्य तेजी लाने के निर्देश के बाद नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के अफसर सक्रिय हो गए हैं। एनवीडीए के संचालक स्वतंत्र कुमार सिंह ने इसके चलते स्लीमनाबाद पहुंचकर स्थानीय अधिकारियों की मौजूदगी में टनल निर्माण का निरीक्षण किया। इस मौके पर विद्युत वितरण कम्पनी के अफसरों से कहा गया है कि टनल कार्य के दौरान पॉवर कट न हो, यहां विद्युत आपूर्ति निर्बाध रखी जाए।

इस टनल का काम जून 2023 तक पूर्ण कराए जाने की समय सीमा सीएम चौहान ने तय की है। इसी के चलते कोरोना संक्रमण की रफ्तार थमने पर टनल निर्माण का कार्य कर रही एजेन्सी से अब तक की प्रगति की जानकारी ली गई। वहीं जिला प्रशासन के समन्वय से होने वाले काम का रिव्यू भी किया गया। संचालक सिंह ने एनवीडीए के अधिकारियों को सात दिनों में अस्थायी आवास के लिए मकानों का सर्वे करने के निर्देश दिए हैं। ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि स्लीमनाबाद टनल निर्माण के दौरान कुछ क्षेत्रों में घरों में वाईब्रेशन से परेशानी हो सकती है। मुख्यमंत्री चौहान ने भी ऐसे निवासियों के लिए वैकल्पिक आवास दिलाने के निर्देश दिए हैं। एनवीडीए अफसर ग्रामीणों के साथ बैठकर उनसे संवाद करेंगे, उन्हें अपनी कार्ययोजना बताएंगे और समन्वित प्रयासों से से शीघ्र ही काम पूरा करेंगे।

टनल निर्माण के लिए नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण को उपलब्ध कराई गई जमीन पर हुए अतिक्रमण को हटाने के निर्देश भी कलेक्टर ने दिए हैं। बरगी व्यपवर्तन परियोजना की स्लीमनाबाद टनल की लागत 799 करोड़ रुपऐ तथा लम्बाई 11.95 किलोमीटर है। इसमें से 6.03 किलोमीटर का कार्य पूर्ण हो गया है तथा 5.914 किलोमीटर का कार्य शेष है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close