मध्य प्रदेश

नेतृत्व परिवर्तन पर बोले सिंधिया, पता नहीं कहां से आती हैं ऐसी हवाई खबरें

ग्वालियर
नेतृत्व परिवर्तन की बात कहां से चल रही है, पता नहीं। आखिर ऐसी हवाई खबरें उड़ाई कहां से जाती हैं? शिवराज जी प्रदेश के प्रमुख हैं और बीते 16 महीनों के दौरान उनके नेतृत्व में हमारे प्रदेश ने चहुमंखी विकास की दिशा में आगे बढ़ते के साथ ही कोरोना संक्रमण को काबू करने दिशा में बहुत ही सराहनीय काम किया है।

यह कहना है सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया का। वह यहां राजमाता विजयाराजे सिंधिया हवाई अड्डे पर पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि  कोरोना पर कारगर रणनीति को लेकर मुख्यमंत्री श्री चौहान से मेरी विस्तृत चर्चा हुई है। हालांकि इस पूरे कोविड काल में मेरी उनके निरंतर चर्चा होती रही। इस दिशा में मध्यप्रदेश ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अभी दूसरे वेव पर काबू पा लिया है, फिर भी जंग अभी भी जारी है। ग्वालियर, चंबल के दौरे पर आए सिंधिया यहां से भिण्ड के लिए रवाना हो गए। इसी क्रम में 11 जून को वह ग्वालियर में रहेंगे।

कोरोना के पीक टाइम पर बने हालातों को लेकर विपक्ष द्वारा उठाए गए सवालों पर श्री सिंधिया ने कहा कि आपदा के समय सम्मिलित प्रयास जरुरी हैं, इसमें राजनीति नहीं आनी चाहिए। टीकाकरण ही इसका हल है और भाजपा कार्यकर्ता इस अभियान की सफलता के लिए लोगों को निरंतर जागरुक कर रहे हैं। साथ ही तीवरी वेव के संभावित खतरे को देखते हुए सरकार ने पूरे दम से तैयारियां शुरु कर दी हैं। कल हर जिले को हम 5-6 एम्बुलेंस देने जा रहे हैं।

जितिन प्रसाद के भाजपा में आने पर श्री सिंधिया ने कहा कि हमने पहले भी साथ में काम किया है और अब एक बार फिर से राजनीतिक सम्बन्ध दोबारा से जुड़ गए हैं, अच्छी बात है।

ग्वालियर-चंबल में अवैध खनन की शिकायतों को लेकर बोले कि मैं हमेशा से अवैध उत्खनन का विरोधी हंू, यह किसी भी कीमत पर नहीं होना चाहिए। फॉरेस्ट एसडीओ श्रद्धा पांढरे पर हुए हमले के सवाल पर उन्होंने कहा कि मैं इस मामले में जल्द सीएम से बात करूंगा।

Related Articles

Back to top button
Close
Close