मध्य प्रदेश

स्वावलंबी मंडल-सक्रिय बूथ के लिए पूरी ताकत से काम करेंगे : विष्णुदत्त शर्मा

भोपाल
मध्यप्रदेश का पार्टी संगठन आदर्श संगठन है। इसे और आगे किस तरह बढ़ाया जाए, कार्यसमिति की बैठक में इस बात पर विचार हुआ। संगठन की मजबूती के लिए हमने तय किया है कि हमारे मंडल स्वाबलंबी बनें तथा बूथ अधिक सक्रियता से काम करें, इसे लेकर भी चर्चा हुई और पार्टी नेताओं ने इस बात पर भी अपने विचार प्रस्तुत किए कि कार्यसमिति सदस्य इस काम में किस तरह अपनी भूमिका का निर्वाह कर सकते हैं। प्रत्येक कार्यकर्ता के लिए काम हो और प्रत्येक काम के लिए कार्यकर्ता तैयार रहे, इसकी योजना बनाने पर भी चर्चा की गई। संगठन तंत्र की मजबूती और कार्यकर्ता को सक्षम बनाने के लिए ई-प्रशिक्षण चल रहा है। 26 तारीख से जिला स्तर के प्रशिक्षण शुरू होंगे। इसे प्रभावी बनाने पर भी विचार हुआ। आने वाले दिनों में पार्टी के कार्यकर्ता केन्द्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं का हितलाभ सुनिश्चित कराने की दिशा में एक वॉलिंटियर की तरह काम करेंगे, जिससे कोई भी जरूरतमंद सरकार की योजनाओं से वंचित नहीं रहे। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने मीडिया को प्रदेश कार्यसमिति की बैठक संबंधी जानकारी देते हुए कही।

ऐतिहासिक रही कार्यसमिति की बैठक
प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि नवगठित कार्यसमिति की यह पहली बैठक कई मायनों में ऐतिहासिक रही। पहली बार कार्यसमिति की बैठक का आयोजन सेमी वर्चुअल तरीके से किया गया। इस कार्यसमिति में कोविड गाइडलाइन के तहत निर्धारित संख्या में भोपाल में प्रतिनिधि उपस्थित रहे। माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष जी ने दिल्ली से कार्यसमिति का उदघाटन किया। प्रदेश के सभी 57 जिलों से कार्यसमिति सदस्य वर्चुअल तरीके से बैठक में शामिल हुए। श्री शर्मा ने कहा कि बैठक के लिए जिस तरह की तैयारियां की गई थीं और जैसा उत्साह प्रदेश कार्यालय में दिखाई दे रहा था, उसी तरह का वातावरण सभी जिलों में भी था। श्री शर्मा ने कहा कि पं. दीनदयाल जी ने कहा था कि जो संगठन, समाज या संस्था समयानुकूल बदलाव नहीं करते, वो समाप्त हो जाते हैं। कोरोना संकट को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी ने जिन अपनी कार्यपद्धति में जो बदलाव किए हैं, यह बैठक उसी की प्रतीक रही।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने की प्रदेश सरकार और संगठन की सराहना
श्री शर्मा ने कहा कि बैठक को राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जे.पी.नड्डा ने संबोधित किया। उन्होंने कोरोना नियंत्रण के काम में, सेवा ही संगठन अभियान में, वैक्सीनेशन के अभियान में मध्यप्रदेश में जिस तरह के काम हुए हैं, उसके लिए प्रदेश सरकार और प्रदेश के भाजपा संगठन की सराहना की। उन्होंने विस्तार से बताया कि मध्यप्रदेश किस तरह से राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना रहा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड बनाने पर प्रदेश की जनता, सरकार और संगठन को शुभकामनाएं दी हैं। उनकी प्रशंसा से हमारा मनोबल और बढ़ा है।

तीन प्रस्ताव हुए पारित
प्रदेश अध्यक्ष ने मीडिया को बताया कि कार्यसमिति की बैठक में तीन प्रस्ताव पारित किए गए। इनमें से एक शोक प्रस्ताव था, जो दिवंगत पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं और समाजजनों के लिए था। प्रदेश की वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों पर एक राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया गया। इसके अलावा कोविड-19 को लेकर भी एक प्रस्ताव पारित किया गया। श्री शर्मा ने बताया कि बैठक में सेवा ही संगठन अभियान को लेकर एक प्रेजेंटेशन भी रखा गया। इसे लेकर राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री श्री शिवप्रकाश जी ने टिप्पणी रखी और बैठक में उपस्थित लोगों का प्रबोधन भी किया।

झूठ बोलने वालों, अराजकतावादियों को कार्यकर्ता देंगे जवाब
शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश ने जब वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड बनाया, तो कुछ लोगों के पेट में दर्द होने लगा। ये वैक्सीनेशन पर सवाल उठाने लगे। पहले ये देश के खिलाफ काम कर रहे थे, अब मानवीयता पर प्रहार कर रहे हैं। ऐसे झूठ बोलने वालों, अराजकतावादियों, देश विरोधियों के साथ खड़े होने वालों को जवाब देने का काम हमारे कार्यकर्ता करेंगे। इन लोगों को बूथ-बूथ पर करारा जवाब दिया जाएगा। कार्यसमिति की बैठक में इस पर भी विचार-विमर्श किया गया।

स्वास्थ्य स्वयंसेवकों की भर्ती और प्रशिक्षण होगा
भारतीय जनता पार्टी गांव-गांव में दो स्वास्थ्य स्वयंसेवकों की भर्ती करने जा रही है, इनमें से एक महिला और एक युवा कार्यकर्ता होगा। मंडल और जिला स्तर पर तीन लोगों की समिति होगी। इन कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण भी कराया जायेगा। ये समितियां और स्वास्थ्य स्वयंसेवक कोरोना जैसे किसी भी संकट के समय लोगों को सलाह देने, उनकी सहायता करने का करेंगे। श्री शर्मा ने बताया कि कार्यसमिति की बैठक में इस योजना पर भी चर्चा की गई।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close