जरा हटके

कभी-भी हैक हो सकता है आपका सोशल मीडिया अकाउंट, अगर नहीं अपनाएं ये 6 तरीके तो हो जाएगा नुकसान

हाल ही में Twitter के सीईओ Jack Dorsey का Twitter अकाउंट हैक हो गया है जिसके बाद अकाउंट से कुछ नस्लवादी ट्वीट्स किए गए। अगर आप सोच रहे हैं कि कभी आप ऐसी स्थिति में फंस गए तो फिर क्या होगा तो हम आपको इसका समाधान बता रहे हैं। जी हां, हम आपको ऐसी स्थिति से बचने के लिए कुछ खास टिप्स दे रहे हैं जिससे आप अपना सोशल मीडिया अकाउंट सुरक्षित कर सकते हैं।

टू-स्टेप वेरिफिकेशन: अकाउंट की सेफ्टी के लिए आपको सबसे पहले तो टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन के जरिए सेफ्टी करना जरूरी होता है। किसी अकाउंट में साइन इन करते समय आपको टेक्स्ट मैसेज, मेल, फोन कॉल के जरिए पहचान 2 बार वेरीफाई करनी होगी। अगर आपने पहले से यह नहीं किया हुआ है तो आप सभी ऑनलाइन अकाउंट को इसके लिए इनेबल कर सकते हैं।

मोबाइल ऐप्स को अप-टू-डेट रखें: हमेशा मोबाइल ऐप्स को अपडेट रखना चाहिए। इससे आपके फोन की सुरक्षा ज्यादा बढ़ जाती है। ऐप डेवलपर हमेशा ऐप्स को नए खतरों से अपडेट और सेफ रखने के लिए कुछ न कुछ नया करते रहते हैं। ऐसे में आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आप हमेशा ऐप का लेटेस्ट वर्जन इस्तेमाल कर रहे हैं। इससे आप हैकर्स को ऐप के जरिए फोन तक पहुंचने का मौका नहीं देते हैं।

संदिग्ध गतिविधि पर नजर: सेफ्टी के लिए आपको अकाउंट में जो भी हो रहा है उस पर नजर रखना जरूरी है। आप जितना जल्दी किसी भी संदिग्ध गतिविधि को नोटिस करेंगे तो उतनी ही जल्दी आप उसे ठीक कर पाएंगे। इस प्रकार आप हैकिंग को रोकने के लिए कुछ कर सकते हैं। ऐसे में आप उन अकाउंट्स से भी बच सकते हैं, जिनसे आप बच सकते हैं। आपको बता दें कि जिन अकाउंट का आप इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। इसमें भी आपका डाटा होता है, क्योंकि वह ईमेल से जुड़े हुए हैं।

पब्लिक नेटवर्क पर सेफ्टी का ध्यान दें: अगर आप कॉफी शॉप में फ्री वाई-फाई एक्सेस करते हैं, या बाहर मौजूद फ्री वाई-फाई का इस्तेमाल करते हैं तो ऐसे में आपको ज्यादा ध्यान देना जरूरी है। हम में से अधिकतर लोगों को फ्री वाई-फाई इस्तेमाल करना पसंद है, लेकिन आपको इसके नुकसान को भी जानना जरूरी है। जब भी ओपन नेटवर्क की बात होती है तो उसका इस्तेमाल सभी कर सकते हैं। ऐसे में खतरा होने की संभावना भी बढ़ जाती है। ऐसे में जब तक बहुत ज्यादा जरूरी न हो तब तक किसी भी ओपन नेटवर्क का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। या फिर जरूर पड़े तो इस दौरान कनेक्ट होने पर निजी अकाउंट को लॉगइन नहीं करना चाहिए।

अकाउंट एक्टिविटी मॉनिटर करें: कई बार क्या होता है कि सोशल मीडिया अकाउंट से जुड़े थर्ड-पार्टी ऐप का डाटा चोरी हो जाता है। इसलिए यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आप सिर्फ वैध ऐप्स को इस्तेमाल कर रहे हैं और आपके पास शेयर की गई हर चीज की जानकारी है। इसलिए किसी के कंट्रोल में आने की बजाय कंट्रोल रखना जरूरी है।

सोशल मीडिया के लिए अलग से ईमेल रखें: सबसे पहले आपको यह ध्यान देना चाहिए कि आपका हर अटैक से सुरक्षित नहीं रह सकते हैं। मान लें कि आपका सोशल मीडिया अकाउंट हैक हो गया और हैकर्स ने आपके ईमेल से छेड़छाड़ की है। अगर आप सोशल मीडिया के लिए अलग ईमेल इस्तेमाल करते हैं तो ऐसे में हैकर्स के पास आपकी निजी जानकारी जैसे बैंक डीटेल, पर्सनल ईमेल आदि नहीं पहुंच पाएंगी। इस प्रकार की चीजों को इस्तेमाल करके आप ऑनलाइन सेफ्टी कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button
Close
Close