छत्तीसगढ़

प्रसव उपरांत स्वास्थ्य केंद्र से टीकाकरण के बाद ही किया जाएगा डिस्चार्ज

रायपुर
प्रदेश भर में  प्रसूताओं को प्रसव के बाद कोविड-19 टीकाकरण के बाद ही अस्पताल से छुट्टी दी जाएगी। इसी प्रकार सभी स्वास्थ्य केंद्रों में प्रसव पूर्व जांच (एएनसी) के लिए आने वाली गर्भवती महिलाओं का कोविड टीकाकरण आॅन स्पॉट पंजीकरण के आधार पर  कराया जाएगा। इस संबंध में जिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य, मातृ-शिशु अस्पताल में व्यापक व्यवस्था की गई है ढ्ढ प्रसूताओं को बेड पर ही टीका लगाया जाएगा।

राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. बीआर भगत ने बताया कि गर्भावस्था के दौरान कोविड-19 संक्रमण से गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य में तेजी से गिरावट आ सकती है और यह भ्रूण को भी प्रभावित कर सकता है। ऐसे में विशेषज्ञों की कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण के लाभ इसके संभावित जोखिमों से कहीं अधिक हैं। टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई, एमओएचएफडब्ल्यू) की सिफारिशों के आधार पर गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण को मंजूरी दी गई है। गर्भवती महिलाओं को कोविड-19 संक्रमण से सुरक्षित करने के लिए जिला स्तर पर मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी द्वारा पत्र जारी कर निर्देशित किया गया है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close