देश

काबुल के गुरुद्वारे में हथियार लेकर जबरन घुसा तालिबान, पवित्रता भंग की 

काबुल
तालिबान को लेकर दुनिया के कई देश अभी भी गफलत में जी रहे हैं, लेकिन यह आतंकी संगठन अपनी हरकतों को अंजाम देने में बेखौफ होकर जुटा हुआ है। इंडियन वर्ल्ड फोरम ने दावा किया है कि आज इस्लामिक अमीरात ऑफ अफगानिस्तान के लोग काबुल के करते परवान स्थित पवित्र दशमेश पिता गुरुद्वारे में भारी हथियारों के साथ जबरन घुस आए और इस पवित्र स्थल की पवित्रता भंग की और समुदाय के लोगों को धमकाया भी। अब इंडियन वर्ल्ड फोरम ने भारत सरकार से गुहार लगाई है कि वह अफगानिस्तान में बच गए हिंदू और सिखों की चिंताओं से विश्व समुदाय को अवगत कराए।

 गुरुद्वारा दशमेश पिता में जबरन घुसे तालिबान के आतंकी-इंडियन वर्ल्ड फोरम इंडियन वर्ल्ड फोरम के अध्यक्ष पुनीत सिंह चंधोक ने दावा किया है कि 'आज भारी मात्रा में हथियार लेकर इस्लामिक अमीरात ऑफ अफगानिस्तान के स्पेशल यूनिट का दावा करने वाले अधिकारी काबुल के करते परवान स्थित गुरुद्वारा दशमेश पिता में जबरन घुस आए। उन्होंने गुरुद्वार में मौजूद सिख समुदाय को धमकाया और पवित्र स्थल की पवित्रता भंग की।' उन्होंने कहा है कि उन लोगों ने न सिर्फ गुरुद्वारा में जबर्दस्ती प्रवेश किया है, बल्कि इससे सटे सामुदायिक स्कूल परिसर में भी छापेमारी कर रहे हैं। 

 सिक्योरिटी गार्ड के साथ मारपीट की गई चंधोक ने कहा है कि 'गुरुद्वारा के प्राइवेट सिक्योरिटी गार्ड ने पहले उन्हें रोकने की कोशिश की, लेकिन उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई और उनके साथ मारपीट भी की।' इंडियन वर्ल्ड फोरम के अध्यक्ष के मुताबिक साथ ही साथ वे पूर्व सांसद नरिंदर सिंह खालसा के आवास और कार्यालय में भी छापेमारी कर रहे थे, जो कि गुरुदारा के पास ही मौजूद है। पुनीत सिंह ने कहा है कि 'गुरुद्वारा की भीतर समुदाय के करीब 20 लोग मौजूद थे।' चंधोक के मुताबिक आज दिन में करीब 2 बजे उन्हें काबुल में रह रहे सिखों की ओर से घबराहट भरे कॉल आए हैं, जिसमें उन्होंने तालिबान के इस तरह से गुरुद्वारा में घुसने की बात कही है।
 

Related Articles

Back to top button
Close
Close