छत्तीसगढ़

90 जोड़े बंधे दाम्पत्य सूत्र में, मंत्री व विस अध्यक्ष की तरफ से मिलेगी 2-2 हजार की मदद

कोरबा
मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत आज कटघोरा के अग्रसेन भवन में सामूहिक विवाह का आयोजन संपन्न हुआ। गायत्री परिवार के सदस्यों द्वारा उच्चारित वैदिक मंत्रोच्चार के मध्य हिन्दू रीति-रिवाज से 90 जोड़ों को दाम्पत्य सूत्र में आबद्ध किया गया। राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल और सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत ने कार्यक्रम में शामिल होकर नव दंपत्तियों को अपना आशीर्वाद प्रदान किया और शुभकामनाएं दीं। राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने सामूहिक विवाह कार्यक्रम में नव दम्पत्तियों को आशीर्वाद प्रदान करते हुए कार्यक्रम मे शामिल सभी 90 जोडो को स्वेच्छा अनुदान से दो-दो  हजार रुपए देने की घोषणा की। साथ ही विवाह सम्पन्न कराने में लगे पंडित-पुजारियों की टीम को भी 31 हजार रुपए देने की घोषणा की। साथ ही कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत की तरफ से भी स्वेच्छा अनुदान से सभी 90 जोडो को दो-दो हजार रुपए देने की घोषणा की। राजस्व मंत्री ने सभी नव दम्पत्तियों को विवाह की शुभकामनाएं देते हुए दम्पत्तियों की सफल वैवाहिक जीवन की कामना की। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना के अंतर्गत निर्धन और गरीब लोगो को सरकारी सहायता के माध्यम से नि:शुल्क में विवाह कराने की सुविधा प्रदान की जा रही है। साथ ही शासन की ओर से दम्पत्तियों को 25 हजार रुपए की आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाती है। उन्होने कहा कि सभी नव दम्पत्ति शांतिपूूर्ण ढंग से उन्नति के साथ जीवन यापन करें।

कार्यक्रम में शामिल सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत ने भी नवजोडो को शुभकामनाएं देते हुए सादगी से दाम्पत्य जीवन को आगे के लिए प्रोत्साहित किया। कार्यक्रम में कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने नवविवाहित दम्पत्तियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि शासन द्वारा गरीब और निर्धन लोगो की मदद के लिए तथा समाजिक कुप्रथा को दूर करने मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना संचालित की जा रही है। इस योजना के माध्यम से शासन के सहयोग से नि:शुल्क में विवाह कराने की सुविधा दी जा रही है। जिससे कमजोर वर्ग के लोग लाभान्वित हो रहे है। कार्यक्रम में महिला आयोग सदस्य श्रीमती अर्चना उपाध्याय, नगर पालिक निगम कोरबा के महापौर राजकिशोर प्रसाद, जनप्रतिनिधि सुरेन्द्र प्रताप जायसवाल, श्रीमती उषा तिवारी, महिला एवं बाल विकास जिला कार्यक्रम अधिकारी एम.डी. नायक सहित विभाग के समस्त पर्यवेक्षक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं विभाग के कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close