देश

धनास में बनने वाले अस्पताल पर गर्माई सियासत, AAP का आरोप, कहा- भाजपा की कठपुतली बना प्रशासन

चंडीगढ़
धनास की ईडब्ल्यूएस कालोनी में बनने वाले 50 बेड के अस्पताल पर राजनीति शुरू हो गई है। आम आदमी पार्टी ने इसको लेकर प्रशासन पर अनदेखी का आरोप लगाया है। स्थानीय पार्षद रामचंद्र यादव ने कहा कि चंडीगढ़ प्रशासन भाजपा की कठपुतली बनकर काम कर रहा है। बिना किसी जांच पड़ताल के भाजपा नेताओं के कहने पर अस्पताल को दूसरी जगह शिफ्ट किया जा रहा है। नगर निगम के वार्ड नंबर-15 धनास की ईडब्ल्यूएस कालोनी सारंगपुर में 50 बेड का अस्पताल बनना था और इसको लेकर एडवाइजर धर्म पाल विजिट भी कर चुके हैं। लेकिन अब भाजपा नेता अधिकारियों पर इस अस्पताल को दूसरे वार्ड में शिफ्ट करने का दबाव बना रहे हैं।

आप पार्षद रामचंद्र यादव ने आरोप लगाया है कि भाजपा नेता अपनी पार्टी के पार्षद के वार्ड इस अस्पताल का निर्माण करवाना चाहते हैं। इस बात का विरोध कर रहे आप पार्षद ने चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारीलाल पुरोहित से बीते दिनों मुलाकात भी की थी और पत्र सौंपते हुए ये मांग की थी कि अस्पताल को ईडब्ल्यूएस कालोनी में ही बनाया जाना चाहिए। रामचंद्र यादव ने कहा कि ये राजनीति का विषय नहीं है बल्कि ईडब्ल्यूएस धनास में 50 हजार लोग रहते हैं और अस्पताल बनाने के लिए पहले से ही वहां जगह तय की जा चुकी है, लेकिन अब प्रशासन भाजपा के इशारे पर काम कर रहा है और अस्पताल को दूसरे वार्ड में शिफ्ट किया जा रहा है। यह धनास के लोगों के साथ बड़ा धोखा है।

आप पार्षद ने ये भी कहा है कि भाजपा अपने जिस वार्ड में अस्पताल को शिफ्ट करना चाह रही है वहां जमीन पहले से ही गोशाला के लिए रिजर्व है। साथ ही वहां लावारिस पशु घूमते रहते हैं। वहां घनी आबादी वाला क्षेत्र है, जिसे जहां पार्किंग की समस्या है। वहीं पास में ही 500 मीटर की दूरी पर ही डंपिग ग्राउंड है, जहां कूड़े का ढेर लगा हुआ है। ऐसी जगह पर हॉस्पिटल बनाना नियमों के भी खिलाफ है। रामचंद्र यादव ने कहा कि प्रशासन को बिना किसी दबाव में और जनस्वास्थ्य का ख्याल रखते हुए पहले से तय जगह पर ही हॉस्पिटल का निर्माण कराना चाहिए। इससे धनास, सारंगपुर, मिल्क कालोनी, डड्डूमाजरा के लोगों के लिए स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकेंगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close