उत्तर प्रदेश

लखनऊ: इस्‍कान मंदिर में सुबह से शुरू हो जाएंगे आयोजन

लखनऊ
प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी श्रीश्री राधा रमण बिहारी मंदिर (इस्कान) सुशांत गोल्फ सिटी में शुक्रवार को श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव मनाया जाएगा। जरी मोती मणि माणिक से जड़ित वृंदावन के विशेष कारीगरों द्वारा निर्मित विशेष पोशाक से भगवान का श्रृंगार किया जाएगा। मंदिर अध्यक्ष अपरिमेय श्याम दास ने बताया कि जन्माष्टमी पर भोर 4:30 बजे मंगला आरती वहीं सुबह 5:15 बजे तुलसी आरती होगी। गुरु पूजा सुबह 7:30 बजे और श्रृंगार आरती सुबह नौ बजे होगी। सुबह 9:30 बजे से शाम 6:30 बजे तक भजनों की प्रस्तुति होगी। संध्या आरती सात बजे होगी।

रात आठ से नौ बजे तक अभिषेक होगा। महा आरती मध्य रात्रि 12 बजे होगी। 256 भोग लगेगा। कौन बनेगा श्रीकृष्ण भक्त नाम से प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता भी होगी। विजेताओं को पुरस्कृत भी किया जाएगा। 20 अगस्त को दोपहर 1:30 बजे नंदोत्सव विशेष रूप से पांच दही हांडियों के साथ भव्यता से मनाया जाएगा।

https://www.facebook.com/iskcontemplelucknow/, https://www.facebook.com/aparimayshyam/ पर मंदिर का लाइव कार्यक्रम देखा जा सकता है। चौक में जन्माष्टमी की अलग ही रौनक : पुराने लखनऊ में 100 वर्ष से अधिक प्राचीन भगवान श्रीकृष्ण की छह हवेलियां हैं, जिसमें सबसे प्राचीन श्री मदनमोहन हवेली है, जो चूड़ी वाली गली में है। चौपटियां की खेतगली में सवा सौ पुराना श्री राधिका नाथ जी ठाकुरद्वारा है। यहां 19 को श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पर विशेष झांकी सजेगी। यहीं पर कुंदन लाल ठाकुरद्वारा भी है।

यहियागंज के श्री बिहारी जी मंदिर में भी जन्माष्टमी पर भक्तों की भीड़ उमड़ेगी। डालीगंज स्थित श्री माधव मंदिर में 19 अगस्त शाम सात बजे से सांस्कृतिक कार्यक्रम शुरू होकर मध्य रात्रि तक चलेंगे। सांस्कृतिक प्रस्तुतियों में प्रख्यात भजन गायक अंशु गोस्वामी पगला बाबा, ज्योति गोस्वामी, निशांत शुक्ला, शुभम गुप्ता अपने भजनों का गुलदस्ता पेश करेंगे।

वहीं श्री राधा माधव भगवान का बनारसी वस्त्र, चांदी के मुकुट, देशी विदेशी फूलों से श्रृंगार किया जाएगा। श्रीकृष्ण भगवान का पंचाभिषेक कर छप्पन प्रकार के व्यंजनों का भोग लगाया जाएगा। मंदिर के फेसबुक पेज से लाइव प्रसारण के साथ बाल गोपाल फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता की फोटो अपलोड कर सकेंगे तथा श्रीकृष्ण संग सेल्फी प्वाइंट भी लगाया जाएगा।

Related Articles

Back to top button
Close
Close