मध्य प्रदेश

लाड़ली लक्ष्मी योजना का क्रियान्वयन अब शिक्षा पोर्टल से होगा

भोपाल
महिला एवं बाल विकास विभाग की लाड़ली लक्ष्मी योजना का क्रियान्वयन इस साल से शिक्षा पोर्टल के जरिए किया जाएगा। स्कूल शिक्षा विभाग ने इसके लिए सभी जिलों के अधिकारियों से लाड़ली लक्ष्मी योजना की हितग्राही बालिकाओं का पंजीयन नामांकन शिक्षा पोर्टल पर बीस अगस्त के पहले करने के निर्देश दिए है।

अभी तक महिला एवं बाल विकास विभाग लाड़ली लक्ष्मी योजना का संचालन करता आया है। समेकित छात्रवृत्ति योजना अंतर्गत वर्तमान में छह विभागों की 27 प्रकार की छात्रवृत्ति योजनाओं का क्रियान्वयन  शिक्षा पोर्टल के माध्यम से किया जा रहा है। वर्ष 2022-23 से महिला बाल विकास विभाग द्वारा संचालित  लाड़ली लक्ष्मी योजना का क्रियान्वयन भी शिक्षा पोर्टल के माध्यम से किया जाना है। इसके लिए सत्र 22-23 में शासकीय और अशासकीय संस्थाओं की कक्षा एक से बारह तह अध्ययनरत सभी विद्यार्थियों का शिक्षा पोर्टल पर शत प्रतिशत प्रवेश उपरांत प्रोफाइल अपउेशन एवं छात्रवृत्ति स्वीकृति की कार्यवाही की जाना है।

लाड़ली लक्ष्मी योजना का लाभ इस साल से शिक्षा पोर्टल के जरिए ही मिलेगा। योजना के दायरे में आने वाली कक्षा एक से आठ तक के विद्यार्थियों के प्रोफाइल अपडेशन एवं छात्रवृत्ति की स्वीकृति के लिए प्रोफाइल अपडेशन का काम शुरु है।  शासकीय एवं अशासकीय शालाओं में अध्ययनरत विद्यार्थियों के प्रोफाइल अपडेशन 5 सितंबर तक किया जा सकेगा। इसके बाद दस सितंबर तक सभी पात्र विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति वितरण शुरु की जाएगी। प्रोफाइल अपडेशन में मोबाइल नंबर, बैंक एकाउंट नंबद की सूक्ष्मता से जांच कर प्रविष्टि करने को कहा गया है। कक्षा नौ से बारह तक के विद्यार्थियों का आधार केवायसी अनिवार्य है। वर्ष 22-23 से उपरोक्त विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति का भुगतान उनके आधार लिंक्ड बैंक एकाउंट से ही किया जाएगा। कक्षा नौ से बारह तक अध्ययनत विद्यार्थियों के प्रोफाइल अपडेट एवं छात्रवृत्ति स्वीकृति की सुविधा शिक्षा पोर्टल पर एक सितंबर से उपलब्ध कराई जाएगी। सभी संभागीय संयुक्त संचालक लोक शिक्षण को इसके लिएप्रतिदिन जिला और विकासखंडवार समीक्षा कर सभी जिला शिक्षा अािकारियों को समीक्षा करने और काम में पिछड़ने वाले जिलीे, संस्थाओं को मार्गदर्शन प्रदान कर समयसीमा में छात्रवृत्ति स्वीकृति का काम पूरा कराने को कहा गया है।

पिछले साल बारह लाख विद्यार्थियों का नहीं हो पाया था पंजीयन
प्रदेश में शासकीय और अशासकीय संस्थाओं के कक्षा एक से बारह तक अध्ययनरत विद्यार्थियों का शालावार एवं विद्यार्थीवार नामांकन कार्य इस समय प्रचलन में है। पिछले साल नामांकित एक करोड़ चालीस लाख विद्यार्थियों की तुलना में अद्यतन एक करोड़ 28 लाख  विद्यार्थियों का नामांकन शिक्षा पोर्टल पर किया गया था। बारह लाख विद्यार्थी शिक्षा पोर्टल पर पंजीयन से वंचित रह गए थे। इसलिए इस साल शिक्षा पोर्टल पर शत प्रतिशत विद्यार्थियों का नामांकन बीस अगस्त तक पूर्ण करने को कहा गया है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close